फर्जी मैरिज ब्यूरो का भंडाफोड़

 फर्जी मैरिज ब्यूरो का भंडाफोड़

शादी कराने का झांसा देकर करते थे ठगी

5 युवतियों समेत 8  ठग गिरफ्तार


कोटा 01 दिसम्बर। शहर के नयापुरा थाना इलाके में फर्जी मैरिज ब्यूरो खोल शहर कर अविवाहित युवक युवतियों से शादी कराने के नाम पर ठगी कर रहे 8 जनों को थाना पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। इनमें पांच महिलाएं भी है। मैरिज ब्यूरो में दबिश के दौरान पुलिस ने मौके से एक लैपटॉप, 18 मोबाइल व एक रजिस्टर जब्त किया है। जिनसे गिरोह में संलिप्त सहअपराधियों तथा गिरोह के अन्य राज्यों एवं देश विदेश में इनकी फर्जी संस्थाओं के संबंध में अनुसंधान जारी है।

*बिहार के दो युवकों ने लोकल युवक व युवतियों को मिला कर बना रखा था फर्जी मैरिज ब्यूरो*

      शहर एसपी विकास पाठक ने बताया कि बुधवार को थानाधिकारी नयापुरा लईक अहमद को मुखबिर से सूचना मिली कि न्यू आकाशवाणी कॉलोनी में बिहार के कुछ युवको द्वारा कोटा शहर की कुछ युवतियों व महिलाओं को साथ मिलाकर एक फर्जी मैरिज ब्यूरो संचालित कर लोगों को शादी का झांसा देकर ठगी की जा रही है। सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर प्रवीण जैन व भगवत सिंह तथा सीओ शंकर लाल के सुपर विजन एवं थानाधिकारी लईक अहमद के नेतृत्व में थाना स्तर से महिला व पुरुष पुलिसकर्मियों को विशेष टीम गठित की गई।

*गिरोह की 05 युवतियां व 3 युवक गिरफ्तार, 18 मोबाइल, एक लैपटाप व एक रजिस्टर जप्त*

     गठित टीम द्वारा बुधवार को न्यू आकाशवाणी कॉलोनी स्थित संजोग मैरिज ब्यूरो पर दबिश देकर मौके से बिहार हाल जवाहर नगर निवासी दो युवकों प्रणय कुमार शर्मा पुत्र अजय कुमार (23) व राकेश कुमार जाटव पुत्र सकलदीप राय (24) व बकानी झालावार हाल जवाहर नगर कोटा निवासी पुरुषोत्तम रावल पुत्र राम रतन (22), सिविल लाइन दोस्त पुरा थाना नयापुरा निवासी सुश्री नेहा शर्मा पुत्री दिनेश शर्मा (23), थाना गुमानपुरा निवासी इप्तिसम पुत्री अब्दुल सलीम (23), थाना मंडाना हाल थाना रेलवे कॉलोनी कोटा निवासी अलका शर्मा पत्नी अनिल जांगिड़ (30), थाना कोतवाली निवासी सुश्री सिमरन पुत्री मोहम्मद शमशाद (19) एवं थाना महावीर नगर कोटा निवासी पूजा वशिष्ठ पत्नी मुकुल शर्मा (29) को गिरफ्तार कर 18 मोबाइल, एक लैपटाप व एक रजिस्टर जप्त किया है।

*सुंदर युवतियों की फोटो लगा बनाते फर्जी फेसबुक आईडी, बायोडाटा मंगा करते ठगी*

      मौके पर मिले ठगी की घटना में प्रयुक्त लेपटॉप व मोबाईल फोनों के विश्लेषण तथा गिरफ्तार ठगों से प्रारम्भिक पूछताछ से यह पता चला कि फर्जी मैरिज ब्यूरो संचालित कर सभी ने एक अलग नाम से फेसबुक आईडी बना रखी है। फेसबुक आईडी पर दिये गये नम्बर पर शादी के इच्छुक युवक व युवती कॉल करते है। उनसे बात कर व्हॉटस पर उनका बायोडाटा मंगा कर उस बायोडाटा से मिलता किसी दूसरे सुंदर लड़के लड़कियों के बायो डेटा में एडिट कर फर्जी बायोडाटा तैयार कर उसको वापस उसी के पास भेज दिया जाता है। फिर शादी के लिये इच्छुक लड़के लड़कियों से अपने अकाउन्ट में रजिस्ट्रेशन के नाम पर 2 हजार से लेकर 21 हजार रूपये जमा करा लेते है। उसके बाद उसका फोन उठाना बन्द कर देते है, तथा जो भी टारगेट मिलता है, उसमें से 10 प्रतिशत राशी कालिंग करने वाली कर्मचारी को मिलती है।

*सभी प्रतिदिन एक से डेढ़ लाख रूपये विभिन्न व्यक्तियों से ठगते*

     प्रारम्भिक पूछताछ में यह भी पता चला कि इन सभी की पेड मोबाईल की सभी सिम फर्जी है, इनके पास रूपये जो जमा होता है वो सात विभिन्न ब्रांचो में जाता है। जिसकी डिटेल्स प्राप्त की जा रही है। ये सभी प्रतिदिन एक से डेढ़ लाख रूपये विभिन्न व्यक्तियों से धोखाधड़ी कर ठग लेते है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,