अधिकारों के साथ कर्तव्यों पर भी ध्यान देना ज़रूरी- डॉ. जगदीश प्रसाद

 समर्पण संस्था द्वारा 73 वें गणतंत्र दिवस पर “ सरकार की योजनाएँ व हमारे कर्तव्य “ विषयक विचार गोष्ठी सम्पन्न 


अधिकारों के साथ कर्तव्यों पर भी ध्यान देना ज़रूरी- डॉ. जगदीश प्रसाद 

    जयपुर , 26 जनवरी ।”सरकारें अपनी ज़िम्मेदारी बख़ूबी निभाती है लेकिन हमारे कुछ नागरिक कर्तव्य भी है जिसका पालन करना बहुत ज़रूरी है । वर्तमान समय में न्यायालयों में सब अधिकारों की लड़ाई लड़ते है लेकिन समाज व एक दूसरे के प्रति कर्तव्यों पर ध्यान नहीं देते हैं ।सामाजिक विकृतियाँ व क़ानूनों का दुरुपयोग इसलिए होता है कि लोग अपने परिवार, समाज व राष्ट्र के प्रति कर्तव्यों को भूलते जा रहे हैं ।” उक्त विचार आज समर्पण संस्था द्वारा गणतंत्र दिवस पर आयोजित विचार गोष्ठी में मुख्य अतिथि महिला अधिकारिता निदेशालय के राज्य समन्वयक डॉ. जगदीश प्रसाद ने व्यक्त किये ।


   उन्होंने कहा कि “गणतंत्र दिवस स्वतंत्रता को आत्मसात् करने का दिन है । संविधान से ही स्वतन्त्रता की अनुभूति होती है । आज देश का विकास चरम की ओर केवल संविधान की वजह से ही है ।” उन्होंने महिलाओं व लड़कियों के अधिकारों की जानकारी देते हुए सरकार की इन्दिरा महिला शक्ति अम्ब्रेला स्कीम, मुख्यमंत्री राजश्री योजना , बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, शिक्षा सेतु, अमृता हाट बाज़ार, सामूहिक विवाह नियमन एवं अनुदान योजना आदि योजनाओं का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया ।


     इससे पूर्व संस्था कार्यालय के सामने मुख्य अतिथि डॉ. जगदीश प्रसाद ने  अन्य अतिथि व पदाधिकारियों के साथ ध्वजारोहण  किया। तत्पश्चात विचार गोष्ठी की शुरुआत  दीप प्रज्जवलन के साथ समर्पण प्रार्थना से की गई जिसे संस्था के कोषाध्यक्ष  रामवतार नागरवाल ने प्रस्तुत किया।

   इस अवसर पर संस्था गतिविधियों की विस्तृत जानकारी से परिपूर्ण एक परिचयात्मक फ़िल्म भी दिखाई गई ।


   संस्था के संस्थापक अध्यक्ष आर्किटेक्ट डॉ. दौलत राम माल्या ने अपने स्वागत भाषण में संस्था के सिद्धांत व कार्यक्रमों की विस्तृत व्याख्या करते हुए अपने विचार व्यक्त किये।तथा भारत सरकार की पॉंच महत्वपूर्ण योजनाओं पर पीपीटी प्रस्तुति दी ।

    इस अवसर पर गायक रमेश कुमार बैरवा ने एक देशभक्ति गीत प्रस्तुत किया।


    विशिष्ट अतिथि राजस्थान महाविद्यालय की उप प्राचार्य डॉ. सुमन मौर्य ने कहा कि “जब हम एक दूसरे के अधिकार व कर्तव्यों का सम्मान करेंगे तब ही हम विकास की ऊचाईयों को छू सकते है ।”

   विशिष्ट अतिथि राजस्थान राज्य नर्सेज एसोसिएशन की प्रदेश मंत्री श्रीमती अनिता मेहरा ने कहा कि “ समाज में बदलाव के लिए बेटियों की पढ़ाई पर अधिक ध्यान देना ज़रूरी है ।”

    विशिष्ट अतिथि भारतीय जीवन बीमा निगम के विकास अधिकारी  राजीव कुमार जैन ने कहा कि “हम स्वयं अपने कर्तव्यों के प्रति ईमानदार रहें तथा लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करने का प्रयास करें ।”


   विशिष्ट अतिथि बैंक ऑफ़ बड़ौदा के सेवानिवृत्त उप महाप्रबन्धक  श्याम मोहन व्यास ने कहा कि “ सरकार की जन धन योजना हर घर तक बैंकिंग पहुँचाने की है । प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, अटल पेंशन योजना सरकार की महत्वपूर्ण योजनाएँ है इनका लाभ सबको लेना चाहिए ।”

   विचार गोष्ठी की अध्यक्षता कर रहे राजस्थान टैक्स बोर्ड के पूर्व सदस्य  मदन लाल दूदवाल ने कहा कि “ सरकार की योजनाओं को धरातल तक पहुँचना बहुत ज़रूरी है ।जन कल्याणकारी योजनाएँ सही मायनों में अन्तिम व्यक्ति तक पहुँच जाये तो देश के विकास को पंख लग सकते है । इसके लिए सामाजिक संस्थाओं को कार्य करने की ज़रूरत है ।”

    संस्था के मुख्य सलाहकार व पूर्व ज़िला न्यायाधीश  उदय चंद बारूपाल ने सभी का आभार व्यक्त किया ।


   विचार गोष्ठी में संस्था सदस्यों के अलावा अनेक गणमान्य व समाज के प्रतिष्ठित व्यक्तियों  ने प्रमुखता से भाग लिया। 

   मंच संचालन सुश्री अंजली माल्या व सुश्री रूपल बारूपाल ने किया ।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,

डीएसपी हीरालाल सैनी मामले में चार पुलिस अधिकारी नपे