डोमेस्टिक ट्रैवल मार्ट के लिए पहला रोड शो आयोजित

डोमेस्टिक ट्रैवल मार्ट के लिए पहला रोड शो आयोजित


- टूरिज्म और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर को उद्योग का दर्जा


- पर्यटन क्षेत्र में क्षमता और कौशल का प्रदर्शन


- जयपुर में 22 से 24 जुलाई तक होगा आरडीटीएम



राजस्थान पर्यटन प्रोजेक्ट्स में निवेश के लिए भी एक पसंदीदा गंतव्य - गायत्री ए. राठौड़,प्रमुख शासन सचिव, पर्यटन


जयपुर 12 मई। राजस्थान सरकार के पर्यटन विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रीमती गायत्री ए राठौड़ ने आज एक विस्तृत प्रजेंटेशन के दौरान कहा कि राजस्थान न केवल पर्यटन के लिए बल्कि पर्यटन और इससे जुड़े प्रोजेक्ट्स में निवेश के लिए भी एक पसंदीदा गंतव्य है। यह इस तथ्य से पुष्ट होता है कि इन्वेस्ट राजस्थान रोड शो के लिए पर्यटन क्षेत्र में सबसे बड़ी संख्या में एमओयू और एलओआई पर हस्ताक्षर किए गए थे: 363 प्रोजेक्ट्स के लिए 11,906 करोड़ रुपये, जिससे 57,138 लोगों को रोजगार मिलेगा। वे होटल क्लार्क्स आमेर में आयोजित राजस्थान डोमेस्टिक ट्रैवल मार्ट (आरडीटीएम) 2022 के पहले रोड शो में संबोधित कर रही थीं। यह राजस्थान में पर्यटन विभाग और फेडरेशन ऑफ हॉस्पिटैलिटी एंड टूरिज्म (एफएचटीआर) द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किया गया था। आरडीटीएम का आयोजन जयपुर में 22 से 24 जुलाई तक होगा।


प्रमुख शासन सचिव ने आगे कहा कि राजस्थान अपनी सांस्कृतिक और शाही विरासत के साथ-साथ अपने वन्य जीवन, ईको रूरल, वेलनेस, लेजर, तीर्थ, शादियों आदि के क्षेत्रों में भी एक बहुत बड़ा गंतव्य है। उन्होंने कहा राजस्थान पर्यटन नीति ने ग्रामीण पर्यटन, फिल्म पर्यटन और विरासत पर्यटन के क्षेत्र को और बढ़ावा दिया है। विभाग की अनुकूल नीति और प्रयासों ने इस क्षेत्र को कोविड-19 महामारी से तेजी से उबरने में मदद की है। उन्होंने उम्मीद जताई की, कि जुलाई में आयोजित होने वाले आरडीटीएम में हितधारकों की सक्रिय भागीदारी होगी। उन्होंने कहा कि हाल ही में की गई बजट घोषणाओं में पर्यटन और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर को उद्योग का लाभ मिलने से इस क्षेत्र में उत्साह का संचार हुआ है। 


प्रेसिडेंट, एफएचटीआर और मैनेजिंग डायरेक्टर, क्लार्क्स ग्रुप ऑफ होटल्स,  अपूर्व कुमार ने कहा कि राजस्थान आज राज्य सरकार द्वारा इस सेक्टर में घोषित बेहद लाभकारी बजट को देखते हुए अन्य राज्यों में सबसे ऊपर है। यह पर्यटन प्रोजेक्ट्स में निवेश को आकर्षित करने के लिए जरूरी था।उन्होंने इस तथ्य पर भी संतुष्टि व्यक्त किया कि राज्य सरकार के ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन (बीआईपी) ने भी राज्य में विभिन्न रोड शो आयोजित करने के लिए एफएचटीआर के साथ हाथ मिलाया है। उन्होंने कहा कि राज्य भर में मंडावा, अजमेर, बीकानेर, जैसलमेर, उदयपुर और कुंभलगढ़ जैसे शहरों में 7 रोड शो आयोजित होंगे। 

पूर्व सचिव, पर्यटन, भारत सरकार और एफएचटीआर के पैटरोन,  ललित के पंवार ने कहा कि कोविड के बाद अब घरेलू पर्यटन पर ध्यान केंद्रित करने का समय आ गया है।घरेलू पर्यटन क्षेत्र का उपयोग करने की क्षमता विदेशी पर्यटन क्षेत्र की तुलना में बहुत अधिक है, जिसे अभी खुलने में समय लगेगा।

निदेशक, पर्यटन, रश्मि शर्मा ने रोड शो के दौरान सौंपे गए 5 प्रोजेक्ट्स के लिए हेरिटेज सर्टिफिकेट्स की घोषणा की।उन्होंने बताया कि सर्टिफिकेट्स अधिक विस्तृत और आकर्षक रूप से डिजाइन किए गए हैं। इस अवसर पर पर्यटन विभाग द्वारा तैयार की गई तीन लघु फिल्मों का भी प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर पर्यटन विभाग द्वारा तैयार की गई तीन शॉर्ट फिल्मों का भी प्रदर्शन किया गया। ये फिल्में हाल ही में आयोजित राजस्थान दिवस समारोह, राजस्थान के विश्व धरोहर स्थलों और राजस्थान के व्यंजनों पर आधारित थीं। रोड शो में पर्यटन क्षेत्र के हितधारकों ने बड़ी संख्या में हिस्सा लिया।

इससे पहले स्वागत भाषण मानद महासचिव, एफएचटीआर,  मोहन सिंह मेड़तिया ने दिया। जिसके बाद गणमान्य व्यक्तियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलित किया गया। समापन भाषण उपाध्यक्ष, एफएचटीआर,  खालिद खान द्वारा दिया गया।



Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,

डीएसपी हीरालाल सैनी मामले में चार पुलिस अधिकारी नपे