प्राइवेट स्कूल्स राष्ट्रीय अधिवेशन का जयपुर में आगाज

प्राइवेट स्कूल्स राष्ट्रीय अधिवेशन का जयपुर में आगाज 


पत्रकार आरिफ आजाद को किया सम्मानित 


जयपुर। प्राइवेट स्कूल्स एण्ड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन का तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन का आगाज़ 17 जून को जयपुर के मैरियट होटल में हुआ। तीन दिवसीय अधिवेशन का उद्घाटन झारखंड सरकार के वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव,प्राईवेट स्कुल्स ऐण्ड चिल्ड्रेन वेल्फेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सैयद शमायल अहमद,इराकी दूतावास अब्दुल जब्बार एच.नवाफ, एसोसियेट दूतावास इराक डा.अमर अब्दुल्ला, कोकिलाबेन धीरूभाई अम्बानी अस्पताल के न्यूरोलॉजिस्ट डा.संजय पाण्डेय,पासवा के झारखण्ड प्रदेश अध्यक्ष आलोक कुमार दूबे एवं देशभर से आये हुए प्रतिनिधियों की उपस्थिति ने दीप प्रज्ज्वलित कर संयुक्त रुप से किया।


 कार्यकर्म के मुख्य अतिथि डा.रामेश्वर उरांव ने कहा कि प्राइवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन देश भर के 2 लाख से अधिक निजी विद्यालयों का प्रतिनिधित्व करता है, निजी विद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में सबसे अच्छा काम कर रही है, आज  प्राइवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन के 11 वर्ष पूरे होने पर एसोसिएशन का नवां अधिवेशन जयपुर में हो रहा है जहां देशभर के निजी विधालयो के संचालक शामिल हो रहे हैं,पिछले वर्ष दिल्ली के अधिवेशन में भी मुझे भाग लेने का अवसर मिला था,कोरोना काल में जब पूरी तरह से दुनिया घरों में कैद थी तब भी हमारे निजी विद्यालयों ने भले ही शहरों तक ही लेकिन ऑनलाइन क्लास लेकर बच्चों के पढ़ाई में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने का प्रयास किया, यह भी सच है कि  कोरोना महामारी में हजारों स्कूल बंद हुए शिक्षकों की स्थिति दयनीय हो गई,मुझे बताया गया कि कई निजी विद्यालयों के शिक्षकों और कर्मचारियों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी।


शिक्षा को बढ़ावा देने में निजी विद्यालयों का योगदान है केंद्र सरकार को नई शिक्षा नीति बनाने में निजी स्कूलों के संचालकों को साथ रखना चाहिए था एवं उनकी राय ली जानी चाहिए थी।

हमारा यह भी मानना है सरकार जिस प्रकार उद्योग लगाने के लिए जमीन देती है,केंद्र हो या राज्य सरकारें स्कूल खोलने के लिए जमीन की व्यवस्था करनी चाहिए। केंद्र सरकार की ओर से 20 लाख का कोविड आर्थिक पैकेज में शैक्षणिक जगत के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई थी।डा.उरांव ने कहा बच्चों के भविष्य के सवाल पर हम कुछ भी करने को तैयार हैं,निजी स्कूल में अनुशासन बेहतर है।

एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सैयद शमायल अहमद ने अधिवेशन की अध्यक्षता करते हुए कहा कि 38 प्रदेशों एवं केन्द्र शासित प्रदेश,642 जिला एवं छः लाख चौबीस हजार गांवों से बच्चों को शिक्षित कराने में प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष एवं पदाधिकारी का सबसे बड़ा योगदान रहता है।देशभर में इस एसोसिएशन ने आमलोगों का भरोसा हासिल किया है।संगठन अब धीरे धीरे पारिवारिक होता जा रहा है,पहले लोग किसी शहर में जाते थे तो रिश्तेदार के यहां रहते जाते थे लेकिन आज हमारे  एसोशिएशन से जुड़े लोगो के यहां जाते हैं। उन्होंने रामेश्वर उरांव की प्रशंसा करते हुए कहा कि आपने हमेशा निजी विद्यालयों को सम्मान दिया है,पूरा देश आपके साथ खड़ा रहेगा।

इसके पूर्व राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष रीतिका राठोर एवं उनकी टीम के द्वारा डा.रामेश्वर उरांव एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष सैयद शमायल अहमद एवं अन्य गणमान्य अतिथियों का जोधपुरी शाफा पहनाया एवं मोमेंटो प्रेजेंट किया। नेशनल काउंसिल मीट 2022 में झारखंड सरकार के मंत्री द्वारा एजुकेशनल आउट स्टेंडिंग लीडरशिप अवार्ड जयपुर के पत्रकार आरिफ आज़ाद को दिया गया ।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,

डीएसपी हीरालाल सैनी मामले में चार पुलिस अधिकारी नपे