क्राइम शो देख कर लड़की ने रची अपहरण की साजिश

 क्राइम शो देख कर लड़की ने रची अपहरण की साजिश  

पिता से मांगे 10 लाख रुपए, 

युवती और प्रेमी दोनों गिरफ्तार



झालावाड़ 10 जुलाई। भवानी मंडी रोड झालरापाटन स्थित दर्शन कॉलेज में परीक्षा देने गई एक युवती का अपहरण और पिता से 10 लाख रुपयों की फिरौती मांगने के मामले का महिला थाना पुलिस ने खुलासा कर दिया है। युवती ने अपने प्रेमी के साथ शादी करने के लिए प्रेमी संग मिलकर खुद के अपहरण की साजिश रची थी और पिता को व्हाट्सएप पर अपने अगवा होने संबंधित फोटो भेज कर रुपयों की डिमांड की थी।

     झालावाड़ एसपी ऋचा तोमर ने बताया कि 7 जुलाई को सारोला कला निवासी अब्दुल सलाम ने एक रिपोर्ट दर्ज कराई। जिसमें बताया कि आज दोपहर वह अपनी बेटी मुस्कान और उसकी सहेली को एमए फाइनल की परीक्षा दिलाने दर्शन कॉलेज आया था। कुछ समय बाद उसके व्हाट्सएप पर बेटी के अगवा होने की फोटो भेज कर अपहरणकर्ता द्वारा 10 लाख की मांग की गई। रिपोर्ट पर थाना महिला थाना में मुकदमा दर्ज किया गया।

      मामले की गंभीरता को देख एसपी तोमर ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश कुमार शर्मा के निर्देशन एवं अति पुलिस अधीक्षक महिला अपराध अनुसंधान सेल देवेंद्र सिंह एवं सीओ ब्रजमोहन मीणा के सुपरविजन में थाना अधिकारी महिला थाना राजू उदयवाल की एक टीम गठित की। जिसमें साइबर सेल को सम्मिलित किया गया। गठित टीम द्वारा कॉलेज के सीसीटीवी फुटेज चेक किए तो अपहर्ता एक बाइक पर लड़के के साथ  कोटा की तरफ जाती हुई दिखाई दी।

    तकनीकी अनुसंधान एवं मुखबिर की सूचना पर टीम ने कोटा से मुलजिम देवेंद्र चौधरी (22) को डिटेन किया। जिससे पूछताछ के बाद अपहर्ता मुस्कान (22) को भी दस्तयाब किया गया। दोनों से पूछताछ में सामने आया कि दोनों पड़ोसी हैं और 2 साल से एक दूसरे से प्रेम करते हैं ।शादी करना चाह रहे थे, लेकिन घरवालों को यह मंजूर नहीं था। इसके लिए उन्होंने अपहरण व फिरौती की साजिश रची। साजिद का विचार उन्हें एक क्राइम शो देख कर आया।

    साजिश के अंतर्गत घटना के रोज करीब 1:30 बजे मुस्कान अपनी सहेली को लेकर पिता के साथ बाइक से दर्शन कॉलेज परीक्षा देने आई। पिता ने दोनों को कॉलेज के गेट पर छोड़ दिया। कॉलेज में जाकर टॉयलेट के बहाने मुस्कान बाहर आ गई और सीधी गेट से बाहर आकर बाहर लेकर खड़े देवेंद्र चौधरी की बाइक पर बैठकर फोरलेन होते हुए कोटा की तरफ निकल गई। रास्ते में पुलिया के नीचे देवेंद्र ने योजना के अनुसार मुस्कान के दुपट्टे से मुंह और हाथ बांध दिया। मुस्कान घुटनों के बल बैठ कर बेहोशी की एक्टिंग कर लेट गई। इस अवस्था का फोटो लेकर देवेंद्र ने मुस्कान के पिता को व्हाट्सएप पर फोटो भेज कर 10 लाख मांगे और बाद में बताई जगह पर पैसे लेकर आने को कहा।

     एसपी तोमर ने बताया कि मुस्कान को यह विश्वास था कि किडनैपिंग का फोटो देखकर उसके पिता डर कर पुलिस को रिपोर्ट नही करेंगे और सीधा उन्हें पैसे दे देंगे, पर ऐसा हुआ नही। मुस्कान के पिता ने पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने भी त्वरित कार्रवाई कर घटना का खुलासा कर कोटा से दोनो को डिटेन कर पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया।

                      

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल