श्रीकृष्ण की बाललीला सुनकर भक्त हुए भाव विभोर

श्रीकृष्ण की बाललीला सुनकर भक्त हुए भाव विभोर


जयपुर । (जे पी शर्मा) राजधानी के झोटवाड़ा नंदगांव स्थित श्री राम जी व माताजी मंदिर में सभी भक्त जनों के सहयोग से 20 जुलाई  से संगीतमय श्रीमद् भागवत भक्ति कथा प्रारंभ हुई। पंडित  शांति स्वरूप महाराज ( गोवर्धन वाले) ने अपनी मथुर वाणी से भजन सुनाकर श्रीकृष्ण का जन्म उत्सव मनाया। 


व्यास जी शांति स्वरूप ने कहा कि आज लोग अपने बच्चों का नाम जो अपनी मर्जी से रख लेते है वो सर्वथा गलत है जिसके कारण उनको अपने दाम्पत्य जीवन में अनेक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है हर व्यक्ति को अपने बच्चों का नामकरण सँस्कार ब्राह्मणों के द्वारा करवाना चाहिये और उसके अनुरूप ही नाम रखना चाहिए आगे कहा कि भगवान राम व श्री कृष्ण का भी विधिवत नामकरण संस्कार किया गया था। इसके साथ ही महाराज ने श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं का विस्तार से बखान किया। श्री कृष्ण जन्म के भजनों पर महिलाओं ने भाव विभोर होकर नाचकर भगवान को रिझाया। इस अवसर पर  सीताराम जांगिड ,दीपक शर्मा (जांगिड़), नोरंग सिंह, बलवंत , देवेंद्र ,सिंहासन, संतोष जांगिड़, राजेश अतरी , आलोक अवस्थी, विनोद जांगिड़, एवम भारी संख्या में मातृशक्ति ने उपस्थित होकर कथा का श्रवण किया।

Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

एसओजी ने महिला पुलिसकर्मी को कालवाड़ में मौसा के घर से दबोचा,

मंत्रियों,सीएस से मिला कर्मचारी महासंघ (एकीकृत)प्रतिनिधिमंडल