पहला पीडियाट्रिक लीवर ट्रांसप्लांट क्लिनिक जयपुर में शुरू नियो क्लिनिक में होगी हर माह के दूसरे गुरुवार को ओपीडी

 पहला पीडियाट्रिक लीवर ट्रांसप्लांट क्लिनिक जयपुर में शुरू


 
नियो क्लिनिक में होगी हर माह के दूसरे गुरुवार को ओपीडी

जयपुर । डॉ रेला इंस्टीट्यूट और मेडिकल सेंटर, चेन्नई के सहयोग से नियो क्लिनिक चिल्ड्रन हॉस्पिटल, जो एक बाल एंव शिशु रोगों के लिए विश्वस्तरीय हॉस्पिटल। RIMC की स्थापना 5 दिन की बच्ची के सफल लीवर प्रत्यारोपण के विश्व रिकॉर्ड के साथ लीवर ट्रांसप्लांट और सर्जरी के क्षेत्र में एक प्रमुख सर्जन प्रो. मोहम्मद रेला के नेतृत्व में की गई थी। RIMC देश में समर्पित लीवर इंटेंसिव केयर यूनिट वाला सबसे बड़ा अस्पताल है, दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा लीवर ट्रांसप्लांट सेंटर है। जो की जयपुर में पीडियाट्रिक लिवर क्लिनिक शुरू करने के लिए नियो क्लिनिक के  साथ आया है जो शहर के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इस तरह के अल्ट्रामॉडर्न क्लिनिक के खुलने से राजस्थान और आसपास के क्षेत्रों के निवासियों को सर्वाेत्तम बाल चिकित्सा सेवाओं से लाभ होगा। 


डॉ. जगदीश मेनन सलाहकार बाल रोग गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट, हेपेटोलॉजिस्ट और लिवर प्रत्यारोपण विशेषज्ञ हैं। वह जाने-माने डॉक्टर हैं जो लीवर की बीमारियों और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल बिमारियों की चिकित्सा में माहिर है। वह बच्चों में लिवर की समस्याओं जैसे कि बिलीरी एट्रेसिया, क्रॉनिक लिवर डिजीज, हेपेटाइटिस, मेटाबोलिक लिवर डिजीज, लिवर ट्यूमर, विल्सन डिजीज एंड एक्यूट लिवर फेल्योर आदि के इलाज में विशेषज्ञ हैं। । उन्होंने बाल चिकित्सा क्षेत्र में चिकित्सा सुविधा को नये आयाम तक पहुंचाया है।

डॉ जगदीश मेनन ने कहा, मुझे नियो क्लिनिक चिल्ड्रन हॉस्पिटल से जुड़कर बहुत खुशी हो रही है, एक ऐसा उच्च प्रतिष्ठा वाला अस्पताल जिसने विभिन्न बीमारियों के लिए बच्चों के इलाज के क्षेत्र में एक जगह बनाई है। पीडियाट्रिकलिवर डिजीज नवजात से लेकर किशोरावस्था तक किसी भी उम्र में हो सकती है। लिवर की बीमारी के सबसे आम लक्षण पीलिया, उच्च रंग का मूत्र, खुजली, पीला मल है। उच्च लक्षण के  लिवर की बीमारी वाले बच्चों में पेट में तरल पदार्थ (जलोदर), तंत्रिका संबंधी लक्षण होते हैं। लिवर की बीमारी का शीघ्र निदान और उपचार और यहां तक कि रोग की स्थिति के आधार पर उचित उम्र में लिवर प्रत्यारोपण के लिए शीघ्र ही अच्छे विश्वस्तरीय हॉस्पिटल में दिखाना चाहिये। 

 रोलाल्ड मे नेशनल हैड सेल्स व मार्केटिंग, डॉ रेला इंस्टीट्यूट एंड मेडिकल सेंटर, चेन्नई ने कहा, कि डॉ रेला संस्थान अत्याधुनिक तकनीक की मदद से उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रो. रेला के नेतृत्व में हमारी लीवर प्रत्यारोपण टीम, जिनके पास 30 से अधिक वर्षों का अनुभव है और जिन्होंने व्यक्तिगत रूप से 2000 से अधिक बाल चिकित्सा लिवर प्रत्यारोपण किए हैं। उन्नत तकनीक के साथ, हमारे अस्पताल में रोबोटिक डोनर हेपेटेक्टोमी किया जाता है। हमारा अत्याधुनिक बाल रोग विभाग प्रतिबद्धता और करुणा के साथ सेवा करने के लिए विस्तार से काम करेगा। समर्पित डॉक्टरों और कर्मचारियों की हमारी टीम उच्चतम गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए पर्याप्त अनुभवी है। हम माह के दूसरे गुरुवार को यहा सेवायें प्रदान करेगे अधिक जानकारी के लिए हमें 7347347233 पर कॉल करे।

इस अवसर पर डॉ. जे. के. मित्तल मेनेजिग डायरेक्टर नियो क्लिनिक ने कहा की पहले बच्चों के लीवर केयर और ट्रांसप्लांट की सुविधा नहीं होने के कारण लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ती थी। अब जब डॉ रेला अस्पताल शहर में आ रहा है, तो यह बेहतर जीवन और बेहतर भविष्य की आशा प्रदान करने के लिए तैयार है। हमारा लक्ष्य शहर में सर्वाेत्तम स्वास्थ्य देखभाल सुविधा प्रदान करना है। आरआईएमसी के साथ नियो क्लिनिक चिल्ड्रन हॉस्पिटल का एसोसिएशन बाल चिकित्सा सुपर स्पेशियलिटी उपचार को सबकी पहुंच तक लाने का प्रयास करेगा।  हम बिना किसी संदेह के घंटों के बाद तत्काल देखभाल सुविधा प्रदान करने के लिए हमेशा चलते रहते हैं। इसके अलावा, विशेषज्ञों के एक पैनल के साथ, हम अपने पास मौजूद हर संसाधन के साथ मानवता की सेवा करने का काम करतेे हैं, केवल अपने मरीजों के चेहरे पर मुस्कान लाते हुए सर्वाेत्तम परिणाम प्राप्त करने के लिए, हम सदैव प्रतिबद्ध है। इस अवसर पर मंच का संचालन  रूपेश माथुर चीफ ग्रोथ व स्ट्रेटिजी नियोक्लिनिक ने किया ।

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी