कोरोना के बावजूद मात्र 2 वर्ष में पूरा किया प्रोजेक्ट

 मुख्यमंत्री शिक्षक एवं प्रहरी आवासीय योजना का लोकार्पण 8 सितम्बर को



        कोरोना के बावजूद मात्र 2 वर्ष में पूरा किया प्रोजेक्ट



 शिक्षकों एवं पुलिस जवानों के आवास का सपना साकार


 मंत्री शान्ति धारीवाल आवंटियों को सौंपेगे फ्लैट की चाबियां


शिक्षा मंत्री बी.डी. कल्ला अध्यक्षता करेंगे एवं गृह राज्य मंत्री राजेन्द्र यादव भी रहेंगे मौजूद


जयपुर, 5 सितम्बर। नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री  शान्ति धारीवाल जयपुर के प्रताप नगर में राजस्थान आवासन मंडल द्वारा विकसित मुख्यमंत्री शिक्षक एवं प्रहरी आवासीय योजना का गुरूवार 8 सितम्बर को दोपहर 12.30 बजे लोकार्पण करेंगे।

विश्व साक्षरता दिवस पर आयोजित इस समारोह की अध्यक्षता शिक्षा मंत्री  बी.डी. कल्ला करेंगे। गृह राज्यमंत्री  राजेन्द्र सिंह यादव, विधायक श्रीमती गंगा देवी, मुख्य सचिव श्रीमती उषा शर्मा, पुलिस महानिदेशक  एम.एल. लाठर तथा प्रमुख शासन सचिव नगरीय विकास विभाग  कुंजीलाल मीणा भी समारोह में मौजूद रहेंगे। नगरीय विकास मंत्री, शिक्षा मंत्री, गृह राज्यमंत्री एवं अन्य अतिथि इस अवसर पर योजना के आवंटी 5 शिक्षकों एवं 5 प्रहरियों को फ्लैट का कब्जा पत्र एवं चाबी सौंपेगे। लोकार्पण से पूर्व सभी अतिथि इस आवासीय योजना के समीप ही आवासन मण्डल द्वारा आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित नवनिर्मित सामुदायिक भवन का अवलोकन भी करेंगे। सभी अतिथि यहां से एक साथ बस में सवार होकर योजना स्थल पहुंचेंगे।

मुश्किल हालातों में भी बरकरार रही काम की गति

आवासन आयुक्त  पवन अरोडा ने बताया कि मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने 20 दिसम्बर, 2019 को इस योजना की घोषणा की थी। दुर्भाग्य से इस घोषणा के दो-तीन माह बाद ही वैश्विक महामारी कोरोना ने दस्तक दे दी। लॉकडाउन के कारण पूरी दुनिया में आर्थिक एवं विकास की गतिविधियां ठहर गई थी। ऐसे विकट दौर में भी आवेदन आमंत्रित करने और टेंडर प्रक्रिया फाइनल करने से जुड़े सभी जरूरी काम मात्र 5 माह की अल्पावधि में ही पूर्ण कर लिए गए और नगरीय विकास मंत्री  शान्ति धारीवाल ने 27 मई, 2020 को योजना का शिलान्यास किया।

दो बार कोरोना लॉकडाउन एवं इसके बाद करीब 1 वर्ष तक निर्माण एवं अन्य गतिविधियों पर पडे प्रतिकूल असर के बावजूद इन कठिन और मुश्किल हालातों में भी मात्र दो साल में ही 2बीएचके के कुल 576 फ्लैट निर्मित कर लिए गए हैं।  अरोडा ने बताया कि इससे पहले हाउसिंग बोर्ड ने जिन भी मल्टीस्टोरी प्रोजेक्ट पर काम किया, उन्हें पूरा करने और आवंटियों को कब्जा सौंपने में सामान्यतः 4 से 5 साल का वक्त लग जाता था। पहली बार हुआ है जब काम शुरू होने के मात्र 2 वर्ष के रिकॉर्ड समय में ही आवंटियों को फ्लैट का कब्जा पत्र और चाबी सौंपे जा रहे हैं।

योजना के पीछे मुख्यमंत्री एवं नगरीय विकास मंत्री की प्रेरणा

आवासन आयुक्त ने बताया कि राष्ट्र निर्माण में शिक्षकों तथा कानून-व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस जवानों की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत एवं नगरीय विकास मंत्री श्री शान्ति धारीवाल की प्रेरणा से जयपुर में इन दोनों वर्गों के लिए इस आवासीय योजना की परिकल्पना तैयार हुई और आवासन मण्डल ने इसे मूर्त रूप दिया। इस क्रम में प्रताप नगर के सेक्टर-26 में विकसित इस योजना में अब तक 501 फ्लैट का आवंटन शिक्षकों को और 45 फ्लैट का आवंटन प्रहरियों (कॉन्स्टेबल एवं हैड कॉन्स्टेबल) को किया जा चुका है। योजना में 13 मंजिला 6 टॉवर बनाए गए हैं। प्रत्येक टॉवर में 96 फ्लैट का निर्माण किया गया है। योजना की कुल लागत करीब 98 करोड रूपये आई है।

मात्र 15 लाख 70 हजार में 2बीएचके आवास

अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप मंडल ने शिक्षकों एवं प्रहरियों को प्रति फ्लैट रियायती दर पर 15 लाख 70 हजार रूपए में उपलब्ध कराए हैं। जबकि इन सुविधाओं के साथ इस श्रेणी के फ्लैट का बाजार मूल्य 24 से 26 लाख रूपए है। पुरस्कृत शिक्षकों को 10 प्रतिशत की विशेष रियायत दिए जाने की मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप योजना में आवंटी 5 पुरस्कृत शिक्षकों को 10 प्रतिशत की अतिरिक्त छूट प्रदान की गई है।

एक से बढकर एक सभी आधुनिकतम सुविधाएं

आवासन आयुक्त ने बताया कि मुख्यमंत्री शिक्षक एवं प्रहरी आवासीय योजना में पर्याप्त बेसमेंट पार्किंग, स्वीमिंग पूल विद चेंजिंग रूम, सभी 6 ब्लॉक में भरपूर ग्रीन एरिया, शानदार सिंथेटिक बास्केटबाल कोर्ट, सीसीटीवी विद सर्विलांस, आकर्षक एंट्री गेट, 24 घंटे बीसलपुर पानी की आपूर्ति, पावर सप्लाई के लिए डेडीकेटेड फीडर, पावर बैकअप के लिए डीजी सैट, प्रत्येक ब्लॉक में दो लिफ्ट (एक स्ट्रेचर लिफ्ट), प्रत्येक टॉवर में विजिटर लाउंज, बर्थडे पार्टी, किटी पार्टी व सामाजिक आयोजन के लिए प्रत्येक टॉवर में पर्याप्त कम्यूनिटी स्पेसिंग, प्रोजेक्ट एरिया से बमुश्किल 300 मीटर की दूरी पर सेक्टर 26 का नव विकसित बड़ा कम्यूनिटी सेंटर कम बैंक्वेट हॉल जो शादी समारोह एवं अन्य आयोजनों की जरूरतों को पूरा करेगा एवं ओपन जिम जैसी अन्य सुविधाएं होंगी। प्रत्येक फ्लैट में 2 बैडरूम, एक लिविंग रूम, एक किचन तथा 2 टॉयलेट्स का निर्माण किया गया है।

शिक्षकों एवं प्रहरियों में भारी उत्साह, आवासन आयुक्त ने लिया जायजा

शिक्षकों एवं प्रहरियों में अपने आवास के लिये खासा उत्साह है। सोमवार को बडी संख्या में शिक्षक एवं प्रहरी अपने परिवार के साथ उन्हें आवंटित फ्लैटस एवं यहां उपलब्ध सुविधाओं को देखने पहुंचे। आवासन आयुक्त  पवन अरोडा ने योजना का अवलोकन किया और मण्डल के अधिकारियों को लोकार्पण कार्यक्रम से संबंधित सभी तैयारियों को जल्द से जल्द अंतिम रूप देने के निर्देश दिये। मण्डल की ओर से लोकार्पण समारोह में आवंटी शिक्षक एवं प्रहरी दम्पत्तियों को आमंत्रित किया गया है।

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी