कर्मचारी महासंघ का जिला कलेक्टर कार्यालयों पर विशाल प्रदर्शन

कर्मचारी महासंघ का जिला कलेक्टर कार्यालयों पर विशाल प्रदर्शन

 


         सरकार को मांगों के लिए एक माह का अल्टीमेटम, 



           आन्दोलन का दूसरा चरण 14 अक्टूबर से


जयपुर। अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ (एकीकृत) के बैनर तले आज बुधवार 14 सितंबर को राज्यव्यापी चरण वद्ध आंदोलन के तहत जयपुर सहित पूरे राज्य में मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर कार्यालयों पर सेंकड़ों  की संख्या में कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियो ने प्रदर्शन कर मुख्य मंत्री  को नियमित एवं अनियमित कर्मचारियों की प्रमुख 15 सूत्रीय मांगो का ज्ञापन भिजवाते हुए आंदोलन को तेज करने की घोषणा की गई। 


जयपुर कलेक्ट्रेट पर हुई सभा में महासंघ प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र राना  ने कहा कि  सरकार को  मांग पत्र समाधान के  लिए 1 माह की मोहलत दी गयी है। अगर सरकार ने संवेदनशीलता प्रदर्शित नही की तो आंदोलन को तेज करते हुए राज्यव्यापी आंदोलन के अगले चरण में 14 अक्टूबर से आंदोलन को तेज करते हुए संभाग स्तरीय धरनो की शुरुआत "भरतपुर संभागीय धरने" से की जाएगी।  जिसमे भरतपुर संभाग के सभी जिलों से कर्मचारी जुटेंगे।


प्रदेश महामंत्री विपिन प्रकाश शर्मा  ने बताया की महासंघ के मांग पत्र की प्रमुख मांगों में संविदा / निविदा /मानदेय भोगी कार्मिकों का नियमितीकरण किया जाए एवम नियमित पद का न्यूनतम बेतन देते हुए ठेका प्रथा समाप्त की जाबे। , 7वे वेतन आयोग की वेतन भत्तों की विसंगति दूर की जावे,  acp नियमों में संशोधन कर   9, 18 ,27 ,के स्थान पर  7, 14 , 21, 28 किया जावे,50 % पेंसन परिलाभ हेतु सेवा अवधि 28 वर्ष की जगह देहली के समान 20 वर्ष की जावे, विभिन्न कर्मचारियों के लंवित पदनांम परिवर्तन शीघ किये जावे। 


मंत्रालयिक कार्मिकों को सचिवालय सेवा अनुसार वेतन एवम पदनांम किया जावे।,ग्रामीड क्षेत्रो के कर्मचारियों को मूल बेतन का 20% ग्रामीड भत्ता शुरू किया जावे।  तृतीय श्रेणी शिक्षकों के लंबित स्थानांतरण शीघ्र किये जाए,भ्रष्टाचार मुक्त स्थानांतरण नीति लागू की जावे, प्रबंधकों तथा शिक्षकों के पदोन्नति सेवा नियमों में संशोधन किया जाए, 


संविदा सेवा काल को पेंशन परिलाभ में शामिल किया जावे,  कर्मचारी कल्याण बोर्ड का गठन किया जाए, इत्यादि कई मांगे शामिल है। महासंघ के जिला जयपुर अध्यक्ष विकास शर्मा , मंजू बोल्या, भूदेव धाकड़, जितेंद्र सिंह, मंसूर अहमद  ज्ञापन प्रतिनिधि मंडल में शामिल हुए।


कलेक्ट्रेट पर सभा को सियाराम शर्मा राजस्थान शिक्षक संघ( सियाराम), शशि भूषण शर्मा राजस्थान प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षक संघ, जितेंद्र सिंह राजस्थान लेबोरेटरी टेक्नीशियन कर्मचारी संघ , बृजेश कुमार शर्मा राजस्थान प्रयोगशाला सहायक संघ, भूदेव धाकड़ , अनेष सैनी राजस्थान राज्य नर्सेज़ एसोसिएशन,  विरेन्द्र बहादुर सिंह राजस्थान संस्कृत शिक्षक संघ, पवन कुमार शर्मा राजस्थान विशेष शिक्षक संघ, किशन लाल मीणा राजस्थान पशुपालन तकनीकी संघ , मोहन लाल ऐचरा  राजस्थान शिक्षक प्रबोधक संघ, संजय दहिया राजस्थान ईसीजी टेक्नीशियन संघ,मंजू बोलियां  महिला एवं बाल विकास संयुक्त कर्मचारी संघ, पुरुषोत्तम कुंभज राजस्थान नर्सिंग टीचर एसोसिएशन ,वकी अहमद  सोसाइटी ऑफ राजस्थान रेडियोग्राफर रेडिएशन टेक्नोलॉजी संघ, राजेश कटारे, नाथू सिंह, राजस्थान संविदा कर्मचारी संघ, हेमेंद्र शर्मा राजस्थान समग्र शिक्षक संघ, सुरेंद्र डांगी राजस्थान गौरव सेनानी शिक्षक संघ आदि वक्ताओं ने संबोधित किया।

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी