लेन देन की स्वीकृति को चुनौती देकर ही प्रदेश भ्रष्टाचार मुक्त बन सकता हैं – महानिदेशक, एसीबी

लेन देन की स्वीकृति को चुनौती देकर ही प्रदेश भ्रष्टाचार मुक्त बन सकता हैं – महानिदेशक, एसीबी 


जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक  भगवान लाल सोनी ने कहा कि समाज में लेन देन की स्वीकृति को चुनौती देकर ही हम राजस्थान को भ्रष्टाचार मुक्त बना सकते हैं ।


महानिदेशक एसीबी  भगवान लाल सोनी भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो द्वारा चलाए जा रहे जन जागरूकता अभियान के तहत शनिवार को चेंबर ऑफ कॉमर्स में राजस्थान एसीबी और राजस्थान चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के समन्वय से आयोजित कार्यक्रम में  भ्रष्टाचार मुक्त राजस्थान बनाने हेतु जन संवाद कर रहे थे । 


 सोनी ने इस अवसर पर कहा कि हमने समाज सरकारी कार्यों को करवाने के एवज में में लेन देन को सहज रूप से स्वीकार कर लिया हैं जो की समाज को पतन की और अग्रसर करता हैं । अगर हमें आने वाली हमारी पीढ़ी को मजबूती प्रदान करनी हैं तो समाज को भ्रष्टाचार मुक्त करने के लिए  स्वयं की ओर से प्रयास करने होंगे । युवाओं के उज्ज्वल  भविष्य  के लिए ऐसे प्रयास किए जाने निश्चित रूप से अनिवार्य है।इसी से युवा अपनी सम्पूर्ण ऊर्जा के साथ राष्ट्र के निर्माण में  योगदान दे  सकेंगे ।


उन्होंने  कार्यक्रम में एसीबी द्वारा चलाए जा रहे अभियान जैसे की एसीबी आपके द्वार , रिवॉल्विंग फंड,आदि के बारे में भी जानकारी दी और एसीबी द्वारा की जा रही विभिन्न प्रकार की कार्रवाई की  प्रक्रिया की भी जानकारी दी। 


महानिदेशक एसीबी ने  आमजन को आह्वान करते हुए कहा कि अगर लोक सेवकों द्वारा जायज  सरकारी काम के एवज में कुछ मांग की जाती हैं तो वे ऐसी मांग का डिजिटल रिकॉर्डिंग कर ले तथा इस हेतु एसीबी की टोल फ्री नंबर 1064 पर कॉल कर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं ।इसके साथ ही वॉटस एप नंबर 9413502834 पर एसीबी सूचना देकर सहायता प्राप्त कर सकते हैं। 


इस अवसर पर उन्होंने चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के विभिन्न व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों ,व्यापारियों एवम मीडियाकर्मियों के द्वारा एसीबी की ओर से कि जा जानेवाली  कार्यवाहियों से संबंधित विभिन्न प्रकार की प्रक्रियाओं की जानकारी के संबंध में किए गए सवालों  के जवाब भी दिए ।उन्होंने  यह कहां की यदि किसी भी व्यापारी अथवा अन्य आमजन को अपने जायज कार्य को कराने के  एवज में किसी भी तरह की रिश्वत की मांग की जाती हैं तो वे निसंकोच एसीबी से संपर्क करे । एसीबी ऐसे लोकसेवकों के विरुद्ध तथ्य आधारित कार्रवाई करेंगी अपितु परिवादी के जायज कार्य को करवाने में भी पूर्ण सहयोग करेगी ।


इस अवसर पर चेंबर ऑफ कॉमर्स के महासचिव डा. के एल जैन ने कहां की राज्य सरकार विभिन्न योजनाओं के माध्यम से अच्छा कार्य कर रही हैं ।उन्होंने कहां की एसीबी द्वारा भ्रष्टाचार मुक्त राजस्थान बनाने की मुहिम स्वागत योग्य हैं । इस हेतु आमजन तथा व्यापारियों को भी  जिम्मेदारी पूर्वक सरकारी कार्य करवाने  की प्रक्रिया में लगने वाले समय तक  धैर्य पूर्वक प्रतीक्षा करने की भी आवश्यकता हैं । दूसरो का नंबर तोड़कर अपने नंबर को लाने की जल्दबाजी भी भ्रष्टाचार को बढ़ावा देती हैं ।

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी

मंत्रियों,सीएस से मिला कर्मचारी महासंघ (एकीकृत)प्रतिनिधिमंडल