कवि भूपेन्द्र राघव ने श्रोताओं को किया मंत्रमुग्ध।

 काव्यस्थली पर सुप्रसिद्ध कवि भूपेन्द्र राघव ने रचनाएँ सुनाकर श्रोताओं को किया मंत्रमुग्ध।


जयपुर (जे पी शर्मा)। काव्यस्थली पटल पर सुविख्यात कवि भूपेन्द्र राघव द्वारा ऑनलाइन एकल काव्य पाठ किया गया। उनके पाठ को सुनने के लिये रचनाकरों में भारी उत्साह देखा गया। राघव ने स्वरचित रचनाएँ सुनाकर सभी श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया । श्रृंगार रस पर नायिका का नख -शिख वर्णन एवम बेटियों पर कविता सुनाकर खूब वाहवाही लूटी तथा माँ की ममता का सुंदर चित्रण किया एवं महाभारत के पात्र शूरवीर अभिमन्यु पर वीर रस से परिपूर्ण  राघव ने अपनी ओजस्वी वाणी से काव्य धारा प्रवाहित कर श्रोताओं को रोमांचित कर दिया । आपको बता दें कि भूपेंद्र राघव ने कई मंचों पर एवम कवि सम्मेलनों में अपनी रचनाएँ प्रस्तुत की है जहाँ उनका भव्य सम्मान किया गया है।  काव्यस्थली पटल पर श्रोताओं ने अपना कीमती समय निकाल कर उनको सुना और उनकी रचनाओं की सराहना की। आज राघव साहित्यकारों के लिये प्रेरणा स्रोत बन चुके हैं उनको सुनने के लिये श्रोता हमेशा लालायित रहते हैं। पटल संचालिका डॉ सुनीता शर्मा ने बताया कि राघव को काफी समय से पटल पर प्रस्तुति देने के लिये समय लिया जा रहा था । लेकिन समयाभाव के कारण समय नही दे पा रहे थे। अंत में 18 दिसंबर का समय मिला तथा एक से बढकर एक रचना प्रस्तुत की। डॉ शर्मा ने आगे कहा आने वाले समय मे भी पटल पर राघव की प्रस्तुति होती रहेगी। अंत मे एडमिन पैनल के वरिष्ठ डॉ बलजीत सिंह अनंत, अरुणा अरोरा , जे पी शर्मा , अरविन्द शर्मा अजनवी, सन्तोष पाण्डेय ने राघव को धन्यवाद देते हुए आभार प्रकट किया तथा उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी

मंत्रियों,सीएस से मिला कर्मचारी महासंघ (एकीकृत)प्रतिनिधिमंडल