कैसे पता करें आपके मोबाइल में 5G चलेगा या नहीं?

       कैसे पता करें आपके मोबाइल में 5G चलेगा या नहीं !



आईफोन-एंड्रॉयड यूजर 5 सेकेंड में जान सकते हैं; 

राजस्थान के 3 शहरों में सर्विस शुरू


जयपुर । जियो ने जयपुर, जोधपुर और उदयपुर में 5G सर्विस लॉन्च कर दी है। पिछले दिनों एयरटेल ने भी जयपुर के कुछ इलाकों में अपनी 5जी सर्विस का ट्रायल किया है। हालांकि कंपनी ने ऑफिशियल घोषणा नहीं की है। संभावना जताई जा रही है कि इस महीने के अंत या अगले महीने से राजस्थान के कुछ शहरों में एयरटेल भी 5जी सर्विस शुरू कर सकता है।

जियो की 5G सर्विस लॉन्च होने के बाद लोगों के मन में सबसे बड़ा सवाल है...

क्या मेरा मोबाइल हैंडसेट 5G को सपोर्ट करता है? कैसे चेक करूं?

 एक्सपर्ट से बात कर इस सवाल का जवाब जाना। साथ ही, हम इस रिपोर्ट में ये भी बताएंगे कि 5G के जरिए आप अपने मोबाइल पर 3D फिल्मों का मजा कैसे ले सकते हैं।

पहले जानिए कैसे पता चलेगा कि आपका फोन 5G सपोर्ट करता है या नहीं। वहीं आप नया फोन खरीद रहे हैं तो भी आप 5G फीचर को आसानी से चेक कर सकते हैं।

नया मोबाइल खरीदने जाएं, 5G सपोर्ट ऐसे चेक करें

मोबाइल बॉक्स को अच्छे से देखें। मोबाइल बॉक्स पर सभी फीचर लिखे दिखेंगे। फीचर्स के बीच आपको 5G लिखा दिखे, तो समझिए कि स्मार्ट फोन 5G को सपोर्ट करता है। 4G ही लिखा है, तो मतलब साफ है कि इस पर 5G सिम डालने से भी कुछ नहीं होने वाला। ऑनलाइन मोबाइल खरीदते समय मोबाइल फीचर्स या हाईलाइट्स पर जाना होगा। इस पर चेक करने से पता चल जाएगा फोन में 5G सपोर्ट है या नहीं।

नहीं बदलनी पड़ेगी सिम, लेकिन 5G का सिग्नल नहीं आए तो...

अब सिम के बारे में भी बात कर लेते हैं। हालांकि जियो कंपनी ने अपने उपभोक्ताओं को 5जी सर्विस के लिए सिम बदलने के झंझट से मुक्ति दी है। कंपनी का कहना है कि जो 4G सिम अभी मोबाइल फोन में है, वही सिम ऑटो अपग्रेड होकर 5जी सर्विस में कन्वर्ट हो जाएगी। बस फोन 5जी सपोर्ट वाला होना चाहिए।

यदि आपके पास 5G को सपोर्ट करने वाला हैंडसेट है तो भी आपके फोन में 5G नेटवर्क नहीं आ रहा, तो आप परेशान नहीं हों। 5G को सपोर्ट करने वाले स्मार्ट फोन पर कंपनी एक लेटेस्ट अपडेट भेजेगी। अपडेट करने के बाद यूजर्स 5G का फायदा ले सकता है।

राजस्थान में फिलहाल जियो ही 5G सर्विसेज दे रहा है। आपके स्मार्ट फोन पर जियो की तरफ से एक इनविटेशन आ सकता है, जिसे टच करके आप Jio True 5G सर्विस का लाभ ले सकेंगे।

शनिवार को सीएम अशोक गहलोत ने जयपुर के टेक्नो हब में 5G लॉन्च किया।

5G से 50-50 GB की 3D फिल्म चुटकी में होगी डाउनलोड

5G लॉन्च होते ही मोबाइल पर 3D क्रांति की शुरुआत हो जाएगी। 5G और Jio Glass सर्विस आपको आपके स्मार्ट फोन पर 3D मूवी देखने का एक्सपीरियंस देंगे। हालांकि जियो ने अभी जियो ग्लास का रेट डिस्क्लोज नहीं किया है।

कंपनी का दावा है कि 5G से उपभोक्ताओं को 1000 MBPS तक की स्पीड मिलेगी। 5G से 50GB की 3D मूवी एक मिनट में डाउनलोड करना संभव होगा। कोई भी उपभोक्ता 4 जीबी तक की फाइल डाउनलोड या अपलोड केवल 5 सेकेंड मे कर सकेगा। पिछले दिनों जब टेलीकॉम विभाग के अधिकारियों ने कंपनी की साइट्स का जायजा लिया, तब उन्हें वहां 1658 MBPS तक की अधिकतम मिली थी।

समझिए, क्या है जियो ग्लास

रिलायंस ग्रुप की पिछले दिनों हुई वार्षिक आम बैठक (AGM), 2022 में पहली बार 75 ग्राम वजनी Jio Glass सबके सामने पेश किया गया था। कम्पनी का यह पहला पहला स्मार्ट ग्लास है।

तकनीकी रूप से समझाएं, तो ये 3डी अवतार है। ये होलोग्राफिक कंटेंट और सामान्य वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के अनुभव को अधिक इंटरैक्टिव बनाता है। इसे पहनकर अपने स्मार्ट फोन का स्क्रीन 3D मूवी देखने जैसा एक्सपीरियेंस देने लगेगा। साथ ही, वर्चुअल वर्ल्ड में बातचीत को बेहतर बनाएगा। इसमें आपको पर्सेनेलाइस्ड ऑडियो और 3D होलोग्राम जैसे ऑप्शन भी मिलेंगे।

जियो ग्लास की एप्लीकेशंस इंडस्ट्री और सेक्टर जैसे कि e-learning, मीडिया और एंटरटेनमेंट, गेमिंग और शॉपिंग के लिए इस्तेमाल की जा सकती है। इस डिवाइस को स्मार्टफोन से भी कनेक्ट किया जा सकता है।

राजस्थान में नाथद्वारा से की गई थी 5जी इंटरनेट की शुरुआत। इस दौरान पत्नी श्लोका के साथ रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी व तिलकायत पुत्र विशाल बावा मंच पर मौजूद रहे।

राजस्थान में नाथद्वारा से की गई थी 5जी इंटरनेट की शुरुआत। इस दौरान पत्नी श्लोका के साथ रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी व तिलकायत पुत्र विशाल बावा मंच पर मौजूद रहे।

क्या 5G इंटरनेट के लिए ज्यादा रुपए देने पड़ेंगे?

एक्सपट्‌र्स का कहना है कि सभी कंपनियां 4G के रेट में ही डेटा प्लान को लाना चाहती हैं। यानी आपको ज्यादा रुपए खर्च नहीं करने पड़ेंगे। इसमें एक पॉइंट ये है कि इंटरनेट की स्पीड ज्यादा होगी तो डेटा भी जल्दी खत्म हो जाएगा। प्लान में तय डेटा खत्म होने के बाद इंटरनेट की स्पीड कम हो जाएगी।

जब 4G है तो 5G की जरूरत क्यों?

1. जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया 4G और 5G में वही अंतर है, जो ब्रॉडगेज ट्रेन और बुलेट ट्रेन में है। एक्सपट्‌र्स बताते हैं 4G इंटरनेट से जो मूवी डाउनलोड करने में 7 मिनट लगते हैं। 5G के जरिए वो 30 सेकेंड में डाउनलोड हो जाएगी।

2. मोबाइल, लैपटॉप और डेस्कटॉप पर फाइल ट्रांसफर में कम समय लगेगा। मान लीजिए 4G नेटवर्क में आपको एक भारी फाइल ट्रांसफर करने में 5 मिनट लगते हैं तो 5G में महज 30 सेकेंड में फाइल ट्रांसफर हो जाएगी, यानी 10 गुना कम समय में।

3. आपने गौर किया होगा अभी 4G नेटवर्क में वीडियो कॉन्फ्रेंस करते समय या ऑनलाइन गेम खेलते समय कई बार स्क्रीन पॉज हो जाती है। एक्सपट्‌र्स का दावा है कि 5G में ऐसा नहीं होगा।

4. मोबाइल या स्मार्ट टीवी पर ऑनलाइन वीडियो देखते हुए सबसे ज्यादा खीझ आती है जब आप यूट्यूब पर कोई फिल्म या सीरीज देख रहे हो और अचानक स्क्रीन रुक जाती है और एक चक्र घूमने लग जाता है। 5G आने के बाद ये प्रॉब्लम पूरी तरह खत्म हो जाएगी।

कार्यक्रम के दौरान जियो ग्लास की लॉन्चिंग भी की गई। सीएम अशोक गहलोत ने ग्लास पहनकर भी देखा।

कार्यक्रम के दौरान जियो ग्लास की लॉन्चिंग भी की गई। सीएम अशोक गहलोत ने ग्लास पहनकर भी देखा।

4जी उपभोक्ताओं की डेटा स्पीड हुई कम

भले ही कंपनियां 5G ला रही हों, लेकिन वर्तमान में 4G उपभोक्ताओं की डेटा स्पीड कम होने की शिकायत आनी शुरू हो गई। कई जगहों पर तो डाउनलोड और अपलोड की स्पीड एमपीपीएस (मेगाबाइट प्रति सेकेंड) से कम होकर केबीपीएस (किलोबाइट प्रति सेकेंड) पर आ गई। ऐसी लोगों ने शिकायतें की हैं।

लोगों के अनुसार, 4G की स्पीड कम आने के कारण कई छोटी से छोटी फाइलों को भेजने और डाउनलोड करने में परेशानी हो रही है। वहीं, इंटरनेट कॉलिंग और सामान्य कॉलिंग में भी परेशानी हो रही है।

कम्प्यूटर खरीदने और अपग्रेड करने के खर्चे से मिलेगी राहत

5G के जरिए काफी कम समय में डेटा आदान-प्रदान कर सकेंगे और कम खर्च में उच्च गुणवत्ता की कम्प्यूटिंग डिवाइस का इस्तेमाल भी कर सकेंगे। आपको बस किसी ऑपरेटर से सब्सक्रिप्शन लेना होगा।

5G से महंगे कंप्यूटर खरीदने और उनके अपग्रेड में होने वाले खर्च से राहत मिलेगी। अब डाटा आसानी से भेजा जा सकेगा। ऐसे में बड़ी और महंगी डाटा कम्प्यूटिंग डिवाइस या तकनीकी एक्सपर्ट को फील्ड में जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

डेटा क्लाउड पर स्टोर करना आसान

फोन हो या लैपटॉप, अभी लोग सबसे पहले ये चेक करते हैं कि स्टोरेज कितना है? जहां वो जरूरी डेटा सुरक्षित रख सकें। डेटा सुरक्षित रखने का दूसरा ऑप्शन होता है क्लाउड स्टोरेज, लेकिन वो प्रोसेस ही इतना धीमा होता है कि लोग यूज नहीं करते। 5G आने के बाद कम समय में डेटा क्लाउड में स्टोर कर सकेंगे।

ये खबरें भी पढ़ें...

1. क्या आपका खर्च बढ़ाएगा 5G?:30 सेकेंड में मूवी होगी डाउनलोड; अब राजस्थान के 4 शहरों में 5G

राजस्थान के 4 बड़े शहरों में 5G इंटरनेट सर्विस शुरू हो चुकी है।

अब सवाल 5G इंटनेट में ऐसा क्या खास है जो 4G में नहीं है? इसे 2 आसान उदाहरण से समझ सकते हैं…।

2G,3G को मीटरगेज ट्रेन और 4G को ब्रॉडगेज ट्रेन मानते हैं तो 5G का मतलब है बुलेट ट्रेन।

4G इंटरनेट पर 2 घंटे की एक फिल्म डाउनलोड करने में 7 मिनट लगते हैं तो 5G में 30 सेकेंड ही लगेंगे, यानी 14 गुना ज्यादा रफ्तार। - पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

2. राजस्थान में आज से 5G, तीन शहरों से शुरुआत:CM ने जयपुर में लॉन्च की जियो सर्विस, बोले- इंटरनेट अफीम हो गया है

राजस्थान में 5G का इंतजार खत्म हो गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज जयपुर से तीन शहरों में रिलायंस जियो की सर्विस को लॉन्च किया। भामाशाह टेक्नो हब में गहलोत ने बटन दबाकर हाईस्पीड इंटरनेट सेवा की शुरुआत की। कंपनी  राजस्थान के जयपुर, जोधपुर और उदयपुर में इस सर्विस को स्टार्ट कर रही है।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में सबसे ज्यादा डेटा यूज हो रहा है, इसके अपने मायने हैं। अब आपको चाहिए कि एक टारगेट सेटकर गांव-गांव तक 5जी सर्विस पहुंचाई जाए। गहलोत ने कहा कि गहलोत बोले- इंटरनेट अफीम हो गया है। 5 लोग जब साथ बैठते हैं तो वो खुद से बात नहीं करते। केवल इंटरनेट पर खोये रहते हैं। फोन में डूबे रहते हैं।

लॉन्चिंग कार्यक्रम में रिलायंस के राजस्थान हेड उमेश भंडारी ने कहा- भारत में हर जगह दिसंबर 2023 तक 5जी सर्विस शुरू कर देंगे। जियो राजस्थान में 18 हजार टावर लगा चुका है। उन्होंने कहा कि इस महीने के लास्ट तक कोटा में भी 5जी सर्विस शुरू की जाएगी। इसके बाद फरवरी में बीकानेर और अजमेर में भी यूजर्स को 5G सर्विस का फायदा मिलेगा।

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी

मंत्रियों,सीएस से मिला कर्मचारी महासंघ (एकीकृत)प्रतिनिधिमंडल