“देश सनक से नहीं बुद्धिमत्ता से चलता है”-अनुपम मिश्रा

चीन से व्यापार घाटा सौ अरब डॉलर के पार फिर भी चुप हैं सरकार-राष्ट्रीय लोकदल 


“देश सनक से नहीं बुद्धिमत्ता से चलता है” -अनुपम मिश्रा 


लखनऊ । टीम- आर.एल.डी. के राष्ट्रीय संयोजक अनुपम मिश्रा ने आज केंद्र सरकार की नीतियों पर प्रहार करते हुए जमकर हमला बोलते हुए चीन के साथ भारत का व्यापार घाटा 100 अरब डालर डॉलर के पार होने को न केवल चिंतनीय विषय बताया बल्कि प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी योजनाओं ‘मेक इन इंडिया ‘तथा ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान ‘ को सुपर फ्लॉप करार देते हुए कहा कि केंद्र सरकार को अपने अभिमान के दर्प से बाहर आकर धरातल पर अर्थशास्त्र व अर्थव्यवस्था को समझना होगा अन्यथा देश की 140 करोड़ आबादी के बर्बाद होने में अधिक समय नहीं लगेगा ।

सरकार को अपनी दोनों महत्वाकांक्षी योजनाओं की गहन समीक्षा कर जनता के सम्मुख एक श्वेत-पत्र रखना चाहिए क्योंकि जनता जानना चाहती है कि इतने ढोल -नगाड़े पीटने के बाद भी आखिर क्या कारण है कि यह दोनों अभियान अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर पाए और चीन से लगातार व्यापार घाटा बढ़ता जा रहा है एक विस्तारवादी देश अपनी सीमाओं का विस्तार करते हुए हमारी सीमाओं पर लगातार घुसपैठ कर हमारे जवानों की जान का दुश्मन बना हुआ है और हम उसके साथ आर्थिक मोर्चे पर भी मात खा रहे हैं।

आखिर क्यों हम वहां से आने वाले हैं उत्पादों पर अपनी निर्भरता कम नहीं कर पा रहे हैं ?

अनुपम मिश्रा ने सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि जब खिलौना उद्योग चीन के खिलौना उद्योग को चुनौती देते हुए स्वयं को स्थापित कर सकता है तो अन्य उद्योग ऐसा क्यों नहीं कर पा रहे हैं क्या सरकार इसका जवाब देगी उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा जब सरकार कुछ उद्योगपतियों के हाथ की कठपुतली बन जाती है तब शेष उद्योग जगत में हताशा व्याप्त हो जाती है यही कारण है कि चाइना के साथ भारत का व्यापार घाटा 100 अरब डॉलर को पार कर गया ।

अनुपम मिश्रा ने केंद्र सरकार को नसीहत देते हुए कहा कि “सरकारें सनक नहीं बुद्धिमत्ता से चलाई जाती हैं “ आज इसी सनक के कारण जो कच्चा माल पहले भारत में उत्पादित किया जाता था वह भी चीन से आयातित किया जा रहा है इसका सबसे बड़ा उदाहरण फ़ार्मा जगत है जिसकी कच्चे माल की सर्वाधिक निर्भरता आज चाइना पर है। उन्होंने कहा कि आज हम कच्चा माल तो आयातित कर ही रहे हैं पर दुर्भाग्यपूर्ण है कि हम तैयार माल भी आयात कर रहे हैं ।


Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी

मंत्रियों,सीएस से मिला कर्मचारी महासंघ (एकीकृत)प्रतिनिधिमंडल