यस वर्ल्ड ने पेश किया ग्लोबल वार्मिंग का समाधान

यस वर्ल्ड ने पेश किया ग्लोबल वार्मिंग का समाधान

        

         कंपनी के प्रोडक्ट को कम्युनिटी ने सराहा

ग्लोबल वार्मिंग समूची दुनिया के लिये एक गंभीर समस्या है, जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभावों से निपटने की लाख कोशिशों के बावजूद  पर्यावरण में कार्बन के स्तर में लगातार  इजाफा हो रहा है जिसके चलते धरती का तापमान दिन-ब-दिन बढ़ रहा है इसी के साथ साथ मानवीय गतिविधियों के चलते होने वाले कार्बन उत्सर्जन से मुख्य अनाजों की पोषकता में कमी आने का खतरा मँडरा रहा है जिसका आने वाले वर्षों में भयावह रूप लेने की संभावना बनी हुई है।   ऐसी स्थिति चुनौतीपूर्ण तो हो सकती है लेकिन इनोवेशन के साथ यह पूरी तरह से असंभव नहीं है। अगर  संयुक्त प्रयास किए जाते हैं तो ग्लोबल वार्मिंग को भी रोका जा सकता है। इसके लिए सरकार के साथ व्यापारिक एवम व्यक्तिगत सहयोग की भी जरूरत है।


इसी संकल्प को लेकर संदीप चौधरी, एक पर्यावरणविद् के रूप में,  विचार-मंथन, नवीन तरीकों और तकनीकों पर विचार करते रहे की कैसे   पर्यावरण के पोषण में योगदान दिया जा सकता है। उन्होंने ग्लोबल वार्मिंग की चुनौती का समाधान खोजने और धरती माँ की रक्षा करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया , संदीप चौधरी को उनके सेव अर्थ मिशन के  लिए कई प्रतिष्ठित पुरस्कार एवम सम्मान से भी नवाजा गया है । संदीप चौधरी हीट बैरियर टेक्नोलॉजी फर्म - इन्फ्लेक्टर इंडिया के कोफाउंडर हैं, और वे पृथ्वी को बचाने के लिए दुनिया के सबसे बड़े मिशन पर काम कर रहे हैं। प्रौद्योगिकी और रियल एस्टेट में एक मजबूत पृष्ठभूमि रखने वाले चौधरी ने हमारे ग्रह पृथ्वी को बचाने के लिए दुनिया के सबसे बड़े मिशन के लिए, वीसी द्वारा वित्त पोषित 50 मिलियन अमरीकी डालर की कंपनी, अपने फिन-टेक स्टार्टअप बैंकसाथी टेक्नोलॉजीज को बिना अपने  भविष्य की परवाह किए इस संकल्प को पूरा करने के लिए छोड़  दिया क्योंकि उनका लक्ष्य स्वयं की उन्नति से हटकर सम्पूर्ण पृथ्वी की सुरक्षा था,  और गठन किया यस वर्ल्ड का ।

यस वर्ल्ड हमारे ग्रह को ग्लोबल वार्मिंग की सबसे बड़ी समस्या से बचाने के लिए जलवायु प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में काम कर रहा है, यस वर्ल्ड ने इस सबसे बड़ी समस्या की गंभीरता को समझा और समस्या का समाधान खोजने के लिए, एक बड़ी पहल शुरू की। अनुसंधान, समर्पण और हस्तकार्य के बहुत समय और वर्षों को खर्च करने के बाद, यस वर्ल्ड ने मानव जाति के सामने आने वाली सबसे बड़ी समस्या का मुकाबला करने के लिए शुक्रवार (6 जनवरी) को आखिरकार एनर्जी एफिशिएंसी विंडोज सॉल्यूशन  लॉन्च किया।

सिंगापुर स्थित कंपनी यस वर्ल्ड  क्लाइमेट टेक पीटीई लिमिटेड ने घर और व्यावसायिक भवनों के लिए, दुनिया का पहला ऊर्जा कुशल विंडोज समाधान लॉन्च किया है। जो ऊर्जा कुशल कांच पारदर्शी खिड़कियों का समाधान है, जो सौर ताप को इमारत में प्रवेश करने से रोकता है और एचवीएसी लोड के संदर्भ में, ऊर्जा की खपत को काफी कम करता है।

खिड़कियों के लिए यस वर्ल्ड  का ऊर्जा दक्ष ग्लास समाधान एक क्रांतिकारी उत्पाद है, जो सूर्य से आने वाली 85% गर्मी को दर्शाता है। यह अनूठा समाधान खिड़कियों से संबंधित भवन की  सभी कमियों को दूर करता है. यह उत्पाद प्रभावी रूप से प्रतिबिंबितता, उत्सर्जन, अवशोषण, उज्ज्वल गर्मी लाभ, सौर ताप लाभ, गोपनीयता, साथ ही एक निष्क्रिय सौर कलेक्टर होने के साथ-साथ, सूर्य के प्रकाश को अवशोषित करने और इमारत में मुक्त गर्मी को विकिरण करने पर लाभकारी नियंत्रण प्रदान करता है. यह ग्रीन बिल्डिंग स्ट्रक्चर के लिए एक सही समाधान है। यस वर्ल्ड पहले से ही कई निर्माण प्रबंधन और अनुपालन एजेंसियों के संपर्क में है, जो हरित भवनों पर काम करते हैं ।

यह खास ग्लास समाधान में डबल फलक ग्लास और सैंडविच ग्लास शामिल हैं. जिसमें पेटेंट सामग्री की एक परत होती है, जो अधिकांश सौर उज्ज्वल गर्मी को दर्शाती है और साथ ही इमारत में प्रवेश करने से, यूवी किरणों को नुकसान पहुंचाती है। ऊर्जा कुशल कांच एचवीएसी लोड के संदर्भ में, ऊर्जा की खपत को काफी कम करता है। कंपनी ने अगले 3 सालों में 50 देशो तक प्रोडक्ट को पहुँचाने का लक्ष्य बनाया है। जल्द ही यह प्रोडक्ट कंपनी के माध्यम से आमजन की पहुंच मैं होगा। इस महत्वपूर्ण योगदान के लिए देश की शख्सियत संदीप चौधरी का संकल्प अब आकार ले रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

माउंट आबू में पूर्व विधायक का माफियाराज!

ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा की भविष्यवाणी

मंत्रियों,सीएस से मिला कर्मचारी महासंघ (एकीकृत)प्रतिनिधिमंडल