लंबित मांगों को लेकर जयपुर में जुटे प्रबोधक

           लंबित मांगों को लेकर जयपुर में जुटे प्रबोधक



                   शुरु किया बेमियादी धरना-प्रदर्शन


जयपुर। प्रदेश भर के ग्रामीण इलाकों के सरकारी विद्यालयों में कार्यरत प्रबोधक अपनी लंबित मांगों को लेकर चलाए जा रहे आंदोलन के तहत सोमवार को सामूहिक अवकाश पर रहे और अखिल राजस्थान प्रबोधक संघ के बैनर तले राजधानी जयपुर के शहीद स्मारक पर में प्रदेशाध्यक्ष हरलालसिंह डूकिया के नेतृत्व में धरना-प्रदर्शन शुरू किया। जिसमें प्रदेश भर के तमाम जिलों व ब्लॉकों से सैकड़ों की संख्या में प्रबोधकों ने भाग लेकर अपनी मांगों व हकों के लिए आंदोलन का आगाज करते हुए मांगें माने जाने तक धरना-प्रदर्शन जारी रखने का भी निर्णय किया।


प्रबोधक संघ के प्रदेश महामंत्री विकास शर्मा ने बताया कि प्रदेश के हजारों प्रबोधकों द्वारा राजीव गांधी पाठशालाओं, शिक्षाकर्मी स्कूलों, मदरसों व लोक जुंबिश परियोजना आदि में दी गई पुरानी सेवाओं की गणना करते हुए पुरानी पेंशन से जुड़े समस्त लाभ-परिलाभ देने, प्रबोधकों को पदोन्नत कर उच्च प्राथमिक विद्यालय में संस्था प्रधान अथवा माध्यमिक विद्यालयों में विषय अध्यापक के पद पर नियुक्ति देने, कस्तूरबा गांधी व अंग्रेजी माध्यम स्कूलों आदि में भी प्रबोधकों को प्रतिनियुक्ति देने, प्रबोधकों की समस्त वेतन विसंगतियां दूर करने तथा वंचित पैरा टीचरों, शिक्षाकर्मियों व अन्य कार्मिकों आदि को भी प्रबोधक सेवा में लेने सहित 5 सूत्री मांगों को लेकर अखिल राजस्थान प्रबोधक संघ की ओर से प्रदेशव्यापी आंदोलन चलाया जा रहा है। जिसके चौथे चरण के तहत सोमवार को प्रदेश भर के समस्त प्रबोधक सामूहिक अवकाश पर रहे और सैकड़ों प्रबोधकों ने राजधानी जयपुर के शहीद स्मारक पर जुटकर अखिल राजस्थान प्रबोधक संघ के प्रदेशाध्यक्ष हरलालसिंह डूकिया के नेतृत्व में धरना-प्रदर्शन शुरू किया।


प्रबोधक संघ के प्रदेश प्रवक्ता   गोपाल लाल धाकड़ ने बताया कि संघ के आह्वान पर किए जा रहे प्रांतीय धरना-प्रदर्शन में भाग लेने के लिए सोमवार को सवेरे से ही प्रदेश के अलग-अलग जिलों व ब्लॉकों से प्रबोधकों के जयपुर पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया और दोपहर 12 बजे तक धरना स्थल पर सैकड़ों की संख्या में प्रबोधकों का जमावड़ा लग गया और सभी ने एक स्वर में उनकी मांगें नहीं माने जाने तक पुरजोर ताकत के साथ आंदोलन जारी रखने का निर्णय किया और यह धरना भी नियमित रूप से क्रमिक स्तर पर जारी रखा जाएगा। 


इस दौरान धरने को संघ के प्रदेशाध्यक्ष हरलालसिंह डूकिया के साथ ही विकास शर्मा महामंत्री,रमेश चन्द शर्मा वरिष्ठ उपाध्यक्ष,मोहन लाल ऐचरा, मोहम्मद युसूफ युसूफ नकवी, करणवीर सिंह, बलराम गोदारा, महेन्द्र नूनिया, हनीफ खा, गुरजंट सिंह, शम्भू दयाल शर्मा,सोहन काठात, नवल किशोर शर्मा, कैलाश दादरवाल, विमला कसवा, उषा भास्कर, सुनीता नरूका, महेश शर्मा, महेन्द्र भगत, राजा राम जांगिड़, श्याम मनोहर, नरेन्द्र सिंह जाखली समेत कई साथियों ने संबोधित किया और सभी ने एकजुट होकर अपनी मांगों व हकों के लिए पूरी ताकत के साथ संघर्ष जारी रखने का एलान किया।

Comments

Popular posts from this blog

ब्यावर के जिला बनने की भविष्यवाणी हुई सत्य साबित

मंत्री महेश जोशी ने जूस पिलाकर आमरण अनशन तुड़वाया 4 दिन में मांगे पूरी करने का दिया आश्वासन

कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस को बंपर सीटें