स्वच्छता की अनूठी मिसाल पेश करेगा डेरा सच्चा सौदा

     स्वच्छता की अनूठी मिसाल पेश करेगा डेरा सच्चा सौदा



   राजस्थान के सभी गांवों व शहरों को चमकाएंगे डेरा प्रेमी 



              गुलाबी नगरी में जुटेंगे चार लाख सेवादार 


जयपुर। डेरा सच्चा सौदा के राजस्थान की साध-संगत शनिवार, 4 फरवरी को इतिहास रचने जा रही है। डेरा के लाखों श्रद्धालु पूरे राजस्थान प्रदेश के गांवों व शहरों में सुबह 10 बजे से सफाई अभियान चलाएंगे। डेरा सच्चा सौदा, सिरसा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह  इन्सां यूपी के बरनावा स्थित आश्रम से वर्चुअली इसकी शुरूआत करेंगे। इसके अलावा परम पिता शाह सतनाम जी महाराज के एमएसजी महारहमोकर्म माह के उपलक्ष में 5 फरवरी को गुलाबीनगरी में एक साथ सात जगहों पर पावन भंडारा भी मनाया जाएगा। डेरा की प्रदेश स्तरीय 45 सदस्यीय यूथ कमेटी के धीरज इन्सां ने बताया कि राजस्थान की संगत के आग्रह पर पूज्य गुरुजी 4 फरवरी को सुबह 10 बजे यूपी आश्रम से स्वच्छता अभियान की शुरूआत करेंगे। राजधानी जयपुर को 18 जोन में बांटा गया है। यहां करीब चार लाख डेरा प्रेमी झाड़ू, कस्सी, तसला, पल्ली, आरी, कुल्हाड़ी आदि के साथ पूरे शहर को चमकाएंगे। सफाई अभियान को लेकर प्रदेश की साध संगत उत्साह से लबरेज है। सफाई के साथ सेवादार भविष्य में अपने आसपास के क्षेत्र को साफ सुथरा रखने के लिए लोगों को जागरूक करते हुए उनके शपथ पत्र भी भरेंगे। 

5 फरवरी को प्रदेश को नशामुक्त बनाने का लेंगे संकल्प 

45 मैंबर रणजीत इन्सां ने बताया कि 5 फरवरी को डेरा सच्चा सौदा के दूसरे पातशाही परम पिता शाह सतनाम  महाराज के महारहमोंकर्म के उपलक्ष में पावन भंडारे का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए राजस्थान से लाखों की संख्या में साध-संगत के आने की संभावना को देखते हुए रूह-ए-सुख आश्रम, दौलतपुरा, जयपुर, राजधानी के विधाधरनगर स्टेडियम, शिप्रापथ, मानसरोवर, सांगानेर, दशहरा ग्राउंड, राजापार्क सहित कुल सात स्थानों पर सत्संग होंगे। इनमें पूज्य गुरु जी वर्चुअली प्रवचन देंगे। इस दौरान राजस्थान प्रदेश की ग्राम पंचायतों को नशामुक्त करने के उदेश्य से साध-संगत संकल्प लेगी। इस दौरान अनेक ग्राम पंचायतों के सरपंच शामिल होंगे।  

5 घंटे में चमकाया था पूरा हरियाणा 

बता दे कि इससे पहले 23 जनवरी को हरियाणा प्रदेश की साध संगत ने मात्र 5 घण्टों में पूरे हरियाणा की सफाई करके पूज्य गुरु जी को अनूठा तोहफा दिया था। 

गौरतलब है कि 28 फरवरी 1960 को डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक बेपरवाह साईं शाह मस्ताना जी महाराज ने परम पिता शाह सतनाम जी महाराज को डेरा सच्चा सौदा की दूसरी पातशाही के रूप में गुरुगद्दी पर विराजमान किया था। इसलिए इस पूरे महीने को डेरा सच्चा सौदा की साध संगत एमएसजी महारहमोकर्म माह के रूप में मनाती है। पूज्य गुरु जी के साथ इस पावन भंडारे को मनाने की खुशी में शनिवार को राजस्थान की साध संगत पूरे प्रदेश में सफाई अभियान चलाकर पूज्य गुरु जी को तोहफा देंगी।

Comments

Popular posts from this blog

नाहटा की चौंकाने वाली भविष्यवाणी

मंत्री महेश जोशी ने जूस पिलाकर आमरण अनशन तुड़वाया 4 दिन में मांगे पूरी करने का दिया आश्वासन

उप रजिस्ट्रार एवं निरीक्षक 5 लाख रूपये रिश्वत लेते धरे