राजस्थान में भी जनता झाड़ू चलाकर भाजपा-कांग्रेस की सफाई करने के लिए तैयार

 भाजपा-कांग्रेस ने बारी-बारी से राजस्थान को लूटा, इनकी आपस में सेटिंग है, इसलिए आजतक कोई जेल नहीं गया- अरविंद केजरीवाल



दिल्ली और पंजाब की तरह राजस्थान में भी जनता झाड़ू चलाकर भाजपा-कांग्रेस की सफाई करने के लिए तैयार है- भगवंत मान


नई दिल्ली/राजस्थान, 13 मार्च । आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने आज पंजाब के सीएम भगवंत मान के साथ राजस्थान के जयपुर में तिरंगा यात्रा निकाली, जिसमें लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। इस दौरान उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से अब तक कांग्रेस ने 48 साल और भाजपा ने 18 साल राजस्थान में राज किया, फिर भी किसान-मजदूर आत्महत्या कर रहे हैं। 1993 से भाजपा और कांग्रेस ने मिलकर बारी-बारी से राजस्थान को लूटा है। ये एक-दूसरे पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हैं, लेकिन आजतक किसी को जेल नहीं भेजा, क्योंकि इनकी आपस में सेटिंग है। ‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दोनों पार्टियों के अंदर लड़ाई चल रही है। ये जनता के लिए नहीं, बल्कि सीएम की कुर्सी के लिए लड़ रहे हैं। वहीं, मनीष सिसोदिया ने दिल्ली के सरकारी स्कूल ठीक कर दिए तो इनको बर्दाश्त नहीं हुआ और उनको जेल भेज दिया, क्योंकि ये स्कूल नही बना सकते। राजस्थान में भी दिल्ली जैसे शानदार स्कूल-अस्पताल बन सकते हैं, लेकिन इसके लिए ‘आप’’ की ईमानदार सरकारी लानी होगी।


जयपुर में तिरंगा यात्रा को संबोधित करते हुए ‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आजादी के बाद से आज तक राजस्थान में 48 साल कांग्रेस ने राज किया है और 18 साल भाजपा ने राज किया है। अब कांग्रेस और भाजपा वाले ये नहीं कह सकते हैं कि राजस्थान की जनता ने हमें मौका नहीं दिया। 48 साल बहुत होते हैं और 18 साल भी बहुत होते हैं। इसके बावजूद हम देख सकते हैं कि राजस्थान का क्या हाल है? राजस्थान में बहुत गरीब है। किसान-मजदूर आत्महत्या कर रहे हैं। किसानों को अपनी फसल के दाम नहीं मिल रहे हैं। बेरोजगारी और महंगाई है और पेपर लीक हो रहे हैं। पूरे राजस्थान का बहुत बुरा हाल है। शहीदों की विधवाएं जब अपना हक मांगने जाती हैं, तो बेइज्जत करके वापस भेज दिया जाता है। 1993 से लेकर आज तक राजस्थान में एक बार भाजपा और एक बार कांग्रेस की सरकार बनती आई है। लोगों ने बारी-बारी कांग्रेस और भाजपा को मौका दिया और बारी-बारी दोनों ने राजस्थान को लूटा। जब भाजपा की सरकार आती है तो कांग्रेस वाले उन पर घोटाला करने का अरोप लगाते हैं। जनता सोचती है कि कांग्रेस को मौका दो, ये इनको जेल भेजेंगे। लेकिन कोई जेल में नहीं जाता है। आज तक भाजपा वालों एक भी कांग्रेसी को जेल नहीं भेजा और कांग्रेस वालों ने भी एक भी भाजपा वाले को जेल नहीं भेजा। दोनों में बड़ी अच्छी सेटिंग है। लेकिन हमारी इनसे सेटिंग नहीं है, हमारी सेटिंग जनता से है। हमारा जनता के साथ रिश्ता है।


‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में भी पहले भाजपा-कांग्रेस चल रहा था। दिल्ली की जनता ने भाजपा और कांग्रेस की सफाई कर दी और आम आदमी पार्टी की सरकार बना दी। पहली बार कांग्रेस की जीरो सीट और भाजपा की 3 सीट आई थी। पंजाब के लोगों ने भी यही किया। वहां भी एक तरफ भाजपा-अकाली दल का गठबंधन था और दूसरी तरफ कांग्रेस थी और दोनों में पांच-पांच साल राज करने को लेकर सेंटिंग थी। वहां भी जब आम आदमी पार्टी आई तो दोनों को साफ कर दिया और 117 सीटों में से आम आदमी पार्टी की 92 सीटें आईं। दिल्ली और पंजाब में लोग क्रांति ले आए और उसका असर पूरे देश की जनता देख रही है। दिल्ली में शानदार स्कूल, अस्पताल और मोहल्ला क्लीनिक बनने लग गए। गरीबों के बच्चों को अच्छी पढ़ाई मिलने लग गई। इन्होंने मनीष सिसोदिया को इसलिए जेल भेजा, क्योंकि वे गरीबों के बच्चों की पढ़ाई करवा रहे हैं। भाजपा वालों से यह बर्दाश्त नहीं हुआ। ये गरीबों के बच्चों को नहीं पढ़ा सकते। सरकारी स्कूलों को ठीक करना कांग्रेस और भाजपा के वश की बात नहीं है। आजादी के 75 साल बाद एक शख्स आया जिसने सरकारी स्कूल ठीक करने शुरू किए तो इनसे बर्दाश्त नहीं हुआ और उसको जेल भेज दिया। 


उन्होंने कहा कि दिल्ली में हमने स्कूल-अस्पताल बनवाए। बिजली फ्री कर दी। घर-घर पानी पहुंचा दिया। सड़कें बनवाई। ये सारे काम अब पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार ने शुरू कर दिया है। पंजाब में अब स्कूल-अस्पताल ठीक होने लगे हैं और 500 मोहल्ला क्लीनिक भी बन गए हैं। दवाइयां व टेस्ट फ्री है। पंजाब में बिजली भी फ्री कर दी है। पंजाब में ‘आप’ की सरकार ने एक साल में 27 हजार सरकारी नौकरिया दे दी। साथ ही, कच्चे कर्मचारियों को पक्का कर दिए। ये सारे अच्छे काम राजस्थान में भी हो सकता है, लेकिन इसके लिए बड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। एक-एक घर जाकर वोट मांगनी पड़ेगी। 


‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस के अंदर लड़ाई हो रही है। दोनों पार्टियों में सीएम की कुर्सी की लड़ाई हो रही है। ये लोग जनता के लिए नहीं लड़ रहे हैं। मैंने सुना है कि वसुंधरा राजे और अशोक गहलोत की बड़ी अच्छी बनती है, उनमें बड़ी दोस्ती है। अशोक गहलोत को थोड़ी सी आंच आ आए तो उनके लिए वसुंधरा राजे पूरी भाजपा को खड़ी कर देती हैं। बीच में सुनने में आया कि भाजपा वाले वसुंधरा राजे को हटा रहे हैं तो अशोक गहलोत ने उनके समर्थन में पूरी कांग्रेस को लगा दी। कांग्रेस और भाजपा अलग-अलग पार्टियां नहीं हैं। एक ही वसुंधरा राजे और अशोक गहलोत पार्टी है। राजस्थान जनता चाहे जिसकी सरकार बना ले लेकिन सरकार तो वसुंधरा राजे और अशोक गहलोत की ही चलेगी। 


‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने राजस्थान की जनता से अपील करते हुए कहा कि इस बार आम आदमी पार्टी की ईमानदार सरकार लेकर आइए। हमें राजनीति करनी नहीं आती है, हमें स्कूल बनवाने आते हैं। अगर आपको राजनीति, भ्रष्टाचार चाहिए तो उनको वोट दे देना, अगर अपने बच्चे के लिए स्कूल बनवाना है तो मेरे पास आ जाना। मैं स्कूल बनवा दूंगा। अस्पताल व सड़कें बनवानी है, पानी और बिजली चाहिए तो मेरे पास आ जाना। मैं पानी और बिजली का इंतजाम कर दूंगा। लेकिन अगर गंदगी, नौटंकी, भ्रष्टाचार, गुंडागर्दी, राजनीति चाहिए तो उनके पास चले जाना। ये सब हमें नहीं आता है। राजस्थान में एक बार भाजपा तो एक बार कांग्रेस की सरकार बनती आई है। इस हिसाब से अब भाजपा का नंबर है। भाजपा वाले आकर डबल इंजन की बात कहेंगे। डबल इंजन इनका कोड वर्ड है। डबल इंजन का मतलब दोगुना भ्रष्टाचार है। अभी मैं कर्नाटक गया था। पिछली बार जब कर्नाटक की सरकार बनी थी, उस समय कांग्रेस की सरकार थी और वहां 20 परसेंट कमीशन होता था। प्रधानमंत्री कर्नाटक गए और बोले कि डबल इंजन की सरकार बना दो, भ्रष्टाचार खत्म कर देंगे और भाजपा की सरकार बनने के बाद वहां 40 पर्सेंट कमीशन हो गया। अगर वो आकर कहें कि डबल इंजन की सरकार बनवा दो तो समझ जाना कि ये दोगुना भ्रष्टाचार कर देंगे। 

*राजस्थान की जनता के पास अभी तक कोई विकल्प नहीं था, लेकिन अब आम आदमी पार्टी विकल्प है - भगवंत मान*

वहीं, पंजाब के सीएम सरदार भगवंत मान ने कहा कि राजस्थान में भाजपा और कांग्रेस ने बारी-बारी से 5-5 साल राजस्थान को लूटा। अभी तक जनता के पास कोई विकल्प नहीं था, लेकिन भगवान ने अब झाड़ू भेज दी है, जो इस गंदगी की सफाई करेगा। 16 मार्च को पंजाब में ‘‘आप’’ की सरकार को एक साल पूरे हो जाएंगे। पंजाब में 117 में से 92 सीटें आम आदमी पार्टी को मिली थी, जिसमें बीजेपी को केवल 2 सीट मिली। दिल्ली-पंजाब की तरह राजस्थान में भी जनता झाड़ू चलाने के लिए तैयार बैठी है। अब राजस्थान की जनता के पास आम आदमी पार्टी का विकल्प आ गया है। भाजपा को मालूम है कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने शानदार स्कूल बना दिए हैं, जहां गरीबों के बच्चे पढ़ कर डॉक्टर वकील बन रहे हैं। पढ़-लिखकर ये बच्चे समझदार हो गए तो सोच कर वोट डालेंगे। फिर कांग्रेस और बीजेपी को कोई भी वोट नहीं डालेगा। इसलिए इतने शानदार स्कूल बनाने वाले मनीष सिसोदिया को जेल के अंदर डाल दिया। ‘‘आप’’ की सरकार ने दिल्ली में शानदार अस्पताल बनाकर सबका इलाज फ्री कर दिया है। अब गरीब व्यक्ति का दिल्ली सरकार के अस्पतालों में फ्री इलाज होता है। इसलिए भाजपा ने अस्पताल बनाने वाले सत्येंद्र जैन को जेल में डाल दिया। केजरीवाल सरकार ने इतने काम किए, फिर भी दिल्ली पर एक रुपए का कर्जा नहीं होने दिया। इसलिए भाजपा को डर है कि अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी दिल्ली-पंजाब के बाद पूरे देश में न फैल जाएं। ऐसा होगा तो देश में लोगों को सब पता चल जाएगा। 

*राजस्थान की जनता को भी फ्री बिजली और अच्छा इलाज मिलना चाहिए- भगवंत मान*

उन्होंने कहा कि राजस्थान के छात्रों को नौकरी उनकी डिग्री के हिसाब से मिलनी चाहिए। राजस्थान के बुजुर्गों को अच्छा इलाज फ्री में मिलना चाहिए। बिजली फ्री होनी चाहिए। लेकिन बीजेपी इसे मुफ्त की रेवड़ी कहती है। बड़े साहब कहते हैं कि अरविंद केजरीवाल फ्री की रेवड़ी बांटते हैं। लोगों से टैक्स का पैसा लेकर उस पैसे को लोगों पर ही लगाना फ्री की रेवड़ी कैसे हो गई? हर खाते में 15 लाख रुपए और हर साल 2 करोड़ नौकरियां देने का जुमला किसने बोला था? इन्होंने रेल, एयरपोर्ट, एलआईसी सब बेच दिया। अभी तक राजस्थान के लोगों के पास ईवीएम में दो ही बटन दबाने को मिलते थे और उन्हीं में से एक दबाना पड़ता था। लेकिन अगर किस्मत बदलनी हैं तो इस बार बटन बदल देना। अगर राजस्थान की जनता ने बटन नहीं बदला तो अभी ये रेल, एयरपोर्ट और एलआईसी ही बेचे हैं, आने वाले समय में ये आपके बच्चों की शिक्षा और उनका भविष्य भी बेच देंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब में कल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट हुआ। उस पेपर में कुछ लापरवाही पाई गई। इसके तुरंत बाद हमने पेपर रद्द कर दिए और पेपर सेटिंग करने वाले यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर समेत अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया। उनको ऐसी सजा मिलेगी कि कोई भी पेपर लीक करने की हिम्मत नहीं करेगा।

Comments

Popular posts from this blog

ब्यावर के जिला बनने की भविष्यवाणी हुई सत्य साबित

मंत्री महेश जोशी ने जूस पिलाकर आमरण अनशन तुड़वाया 4 दिन में मांगे पूरी करने का दिया आश्वासन

कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस को बंपर सीटें