कॉंग्रेस की कार्यशाला

कांग्रेस पार्टी की सबसे बड़ी ताकत कार्यशाला में उपस्थित कार्यकर्ता हैं -  सुखजिंदर  सिंह रंधावा 



पद की बजाए कांग्रेस का झण्डा बुलंद रहे, यही कामना है- अशोक गहलोत 



कार्यकर्ताओं के कारण ही प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनी - गोविंद सिंह डोटासरा 


जयपुर, 19 अप्रेल। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  गोविन्द सिंह डोटासरा, प्रभारी राजस्थान  सुखजिन्द्र सिंह रंधावा एवं मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत द्वारा जयपुर स्थित बिड़ला सभागार में राजस्थान प्रदेश के एआईसीसी व पीसीसी डेलीगेट्स, प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारीगण, सांसदगण व सांसद प्रत्याशीगण, पूर्व सांसदगण, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्षगण, राजस्थान विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्षगण, राज्य सरकार के मंत्रीमण्डल के सदस्यगण, विधायकगण व विधायक प्रत्याशीगण, पूर्व विधायकगण, जिला कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्षगण, अग्रिम संगठनों के पदाधिकारीगण, विभाग व प्रकोष्ठों के प्रदेशाध्यक्षगण, जिला प्रमुखगण, प्रधानगण, नगर निकाय के अध्यक्षगण, ब्लॉक कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्षगण तथा मण्डलों के अध्यक्षगण से प्रदेश कांग्रेस द्वारा आयोजित होने वाले आगामी कार्यक्रमों को लेकर कार्यशाला में संवाद किया गया।


कार्यशाला में उपस्थित नेताओं एवं कांग्रेजसनों को सम्बोधित करते हुये राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि कांग्रेस के उपस्थित कार्यकर्ताओं के कारण ही प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनी है तथा नेताओं को मंच उपलब्ध हुये हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने राजस्थान की जनता को एक से बढक़र एक लोककल्याणकारी योजनायें दी हैं तथा गुड गर्वनेन्स के माध्यम से शानदार शासन दिया है। उन्होंने कहा कि आज की कार्यशाला इसलिये महत्वपूर्ण है कि प्रदेश में चुनावी वर्ष चल रहा है तथा चुनावी साल में जिस पार्टी के कार्यकर्ताओं में जोश होता है उसी पार्टी की सरकार बनती है। उन्होंने कहा कि कार्यशाला में प्रदेशभर से आये हुये नवनियुक्त मण्डल अध्यक्षगण, ब्लॉक अध्यक्षगण तथा अन्य उपस्थित कांग्रेसजनों का जोश एवं हौसला देखकर साबित होता है कि सभी कांग्रेसजनों ने प्रदेश में पुन: कांग्रेस की सरकार बनाने की ठान ली है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं के जोश, प्रभारी सुखजिन्द्र सिंह रंधावा के मार्गदर्शन एवं कांग्रेस सरकार की लोककल्याणकारी योजनाओं के दम पर प्रदेश में पुन: कांग्रेस की सरकार बनना निश्चित है। उन्होंने कहा कि प्रभारी  रंधावा की स्वीकृति पर राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अधिकृत वैब साईट लॉन्च हुई है जिसके द्वारा राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के छोटे-छोटे से पदाधिकारी की सम्पूर्ण जानकारी, संगठन की गतिविधियां तथा राजस्थान सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी सभी के साथ साझा होगी। उन्होंने कहा कि दिनांक 24 अप्रेल, 2023 से प्रदेश में कांग्रेस सरकार द्वारा प्रदेश की जनता को मंहगाई से निजात दिलाने के लिये मंहगाई राहत कैम्प आयोजित किये जायेंगे जिसके तहत् राजस्थान सरकार की दस कल्याणकारी योजनाओं का पंजीकरण प्रदेश की जनता को कराना होगा। उन्होंने कहा कि मंहगाई राहत कैम्प में पंजीकरण के पश्चात् राजस्थान के जन-जन को राजस्थान सरकार की दस कल्याणकारी योजनाओं जिसमें 100 यूनिट घरेलू उपभोक्ताओं को बिजली मुफ्त, 2000 यूनिट बिजली किसानों को मुफ्त, बीपीएल परिवारों को 500 रूपये में गैस सिलेण्डर, मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना सहित अन्य योजनाओं का लाभ जनता को मिलेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी नेता एवं कार्यकर्ता मंहगाई राहत कैम्प में आम जनता की सहायता हेतु उपस्थित रहकर सुनिश्चित करें कि सरकार की सभी योजनाओं का लाभ जन-जन तक पहुॅंचे, इस हेतु कांग्रेस के सभी नेता एवं कार्यकर्ता मंहगाई राहत कैम्प में आने वाले क्षेत्रवासियों का पंजीकरण कराने में सहायता प्रदान करें। उन्होंने कहा कि क्षेत्रवासियों को सहायता प्रदान करने से न सिर्फ जनसमर्थन मिलेगा बल्कि पार्टी भी मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं की ताकत के बल पर राजस्थान सरकार की नीतियों को अंतिम छोर पर बैठे हुये व्यक्ति तक ले जायेंगे। उन्होंने कहा कि आज राजस्थान में प्रदेश कांग्रेस के संगठन में 8,91,683 पदाधिकारी प्रदेश से लेकर बूथ स्तर तक बनाये गये हैं। इन कार्यकर्ताओं की ताकत के बल पर भाजपा जो घुटने के बल चल रही है का प्रदेश से सफाया किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेशाध्यक्ष पद तो एक निमित मात्र होता है, किन्तु पार्टी की असली ताकत कार्यकर्ता हैं। उन्होंने कहा कि सरकार एवं मुख्यमंत्री की लोकप्रियता, कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ताओं की ताकत एवं प्रभारी  रंधावा के मार्गदर्शन में कांग्रेस पुन: राजस्थान में सरकार बनायेगी तथा इस जीत में सबसे महत्वपूर्ण योगदान कार्यकर्ताओं का माना जायेगा।


डोटासरा ने कहा कि विपक्षी दल भाजपा प्रदेश में कानून-व्यवस्था को मुद्दा बना रही है जबकि देश के अन्य प्रदेशों के मुकाबले राजस्थान में कानून-व्यवस्था सबसे बढिय़ा है। उन्होंने कहा कि दूसरा मुद्दा पेपर लीक का बनाया जा रहा है जबकि पूरे देश में प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक हो रहे हैं, किन्तु राजस्थान एकमात्र प्रदेश हैं जहॉं ऐसे प्रकरणों की रोकथाम के लिये कड़े कानून विधानसभा ने पास किये हैं। उन्होंने कहा कि सभी कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता आगामी दिनों में आयोजित होने वाले मंहगाई राहत कैम्पों में हैल्प डेस्क लगायें, आने वाले लोगों की पंजीकरण में सहायता करें तथा योजनाओं के लाभ से कोई नागरिक वंचित ना रहे यह सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जो भी नेता एवं कार्यकर्ता जनता के बीच कार्य करेगा उसे ही आने वाले चुनावों में प्रत्याशी बनने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि दो माह पश्चात् सभी नवनियुक्त मण्डल अध्यक्षगण एवं ब्लॉक अध्यक्षगण का एक सम्मेलन जुलाई माह के प्रथम सप्ताह में आयोजित होगा जिसमें सभी मण्डल अध्यक्षगण एवं ब्लॉक अध्यक्षगण के अनुभव तथा सुझाव राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नेतागण सुनेंगे। उन्होंने कहा कि अनुशासन से कार्य करते हुये प्रदेश में पुन: कांग्रेस की सरकार बनाने के लिये सभी कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता जुट जायें।


कार्यशाला को सम्बोधित करते हुये राजस्थान प्रभारी  सुखजिन्द्र सिंह रंधावा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की सबसे बड़ी ताकत कार्यशाला में उपस्थित कार्यकर्ता हैं। उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी मजबूती के साथ कार्य कर रही है तथा संगठन एवं सरकार पर कांग्रेस पदाधिकारी गर्व महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि कार्यशाला में उपस्थित सभी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं की पहचान पार्टी के कारण है। उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति का डीएनए कांग्रेस का है वह कभी पार्टी की खिलाफत नहीं कर सकता तथा जिसके खून में कांग्रेस है वह कभी पार्टी में पद के लिये मांग नहीं करता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं का एक ही लक्ष्य है कि केन्द्र से फासीवादी मोदी सरकार को हटाकर कांग्रेस का शासन लाया जाये। उन्होंने कहा कि नेता आते-जाते रहते हैं किन्तु कांग्रेस पार्टी अपने कार्यकर्ताओं के बलबूते पर मजबूती के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि इतिहास बताता है कि जो कल्याणकारी योजनायें कांग्रेस शासन में बनाई जाती हैं उन्हें भाजपा सत्ता में आने पर बंद कर देती है। उन्होंने कहा कि पार्टी को कार्यकर्ता मजबूती प्रदान करते हैं तथा पार्टी के कारण नेता मजबूती पाते हैं। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि अनुशासन बनाये रखने तथा अनुशासन के साथ काम करने का संकल्प लें जिस पर सभी उपस्थित कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने दोनों हाथ उठाकर अनुशासन का संकल्प लिया। उन्होंने कहा कि जो कार्यकर्ता पार्टी की मजबूती के लिये काम करेगा, कांग्रेस की विचारधारा के लिये काम करेगा, उसे पार्टी में आगे बढऩे का मौका प्रदान किया जायेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी देशभक्तों की पार्टी है जिसमें लोग लेने की बजाए देश के प्रति योगदान करने हेतु आते हैं। उन्होंने कहा कि जो कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता पार्टी का विरोध करें उन नेताओं का बहिष्कार कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को करना चाहिये। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अंग्रेजों के शासन के विरूद्ध लड़ाई लड़ते हुये ईस्ट इण्डिया कम्पनी द्वारा स्थापित राज को उखाड़ फेंका था तथा अब समय आ गया है कि उद्योगपतियों की सहायता से शासन में आने वाली भाजपा के शासन को उखाड़ फेंकने के लिये संघर्ष करें। उन्होंने कहा कि पार्टी सर्वोपरि है, पार्टी से महत्वपूर्ण कोई एक व्यक्ति नहीं हो सकता, अत: सभी नेता एवं कार्यकर्ता अनुशासन एवं एकजुटता के साथ पार्टी की मजबूती के लिये कार्य करते हुये पुन: प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनाने हेतु जुट जायें।


कार्यशाला को मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने सम्बोधित करते हुये कहा कि आज देश एवं प्रदेश के हालातों पर सब ने खुलकर अपने विचार रखे हैं। उन्होंने कहा कि तिरंगे के तले कांग्रेस के महान् स्वतंत्रता सैनानियों ने देश को आजाद कराया तथा संविधान के तहत् लोकतंत्र का शासन स्थापित किया। उन्होंने कहा कि आज देश में सत्ता में बैठे हुये लोग जिस भाषा का उपयोग कर रहे हैं वह निन्दनीय है। उन्होंने कहा कि ईडी, सीबीआई एवं न्यायपालिका सहित सभी संवैधानिक संस्थायें दबाव में है। उन्होंने कहा कि मोदी और शाह के नेतृत्व में फासीवादी शासन चल रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी बार-बार कहते हैं कि कांग्रेस ने 70 साल में क्या किया, जबकि जनता को मताधिकार प्रदान कर देश में लोकतंत्र की स्थापना करने का कार्य कांग्रेस ने किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जुमलों के आधार पर शासन करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेताओं ने स्वतंत्रता आन्दोलन में उंगली तक नहीं कटाई, किन्तु खुद को देशभक्त बताते हैं। उन्होंने कहा कि देश में बदलाव की शुरूआत राजस्थान से करनी है क्योंकि राजस्थान में कांग्रेस के चुनाव जीतने के पश्चात् पूरे देश में कांग्रेस की राह प्रशस्त होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आलाकमान का राजस्थान के नेताओं पर पूर्ण विश्वास है जिसे कायम रखते हुये राजस्थान के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को पार्टी की मजबूती के लिये कार्य करना है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता प्रदेश में पुन: कांग्रेस की सरकार बनाना चाहती है किन्तु यह सब कार्यकर्ताओं की मेहनत के बल पर ही सम्भव होगा। उन्होंने कहा कि घर-घर जाकर वोट मांगना सम्मान प्रदान करने के समान है क्योंकि बाबा साहब द्वारा दिये गये संविधान में मत का अधिकार आम जनता को प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी नेता एवं कार्यकर्ता आत्मविश्वास के साथ जनता में जाकर पार्टी के लिये कार्य करें क्योंकि प्रदेश की जनता कांग्रेस शासन में विश्वास जता रही है। उन्होंने कहा कि वे तीन बार प्रदेशाध्यक्ष, तीन बार केन्द्रीय मंत्री तथा तीन बार राज्य के मुख्यमंत्री बनकर पूर्णतया अतिसंतुष्ट हैं किन्तु पार्टी की मजबूती एवं प्रदेश की सेवा के संकल्प के साथ अपना योगदान प्रदान करते रहना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि पद की बजाए कांग्रेस का झण्डा बुलंद रहे, यही उनकी कामना है। उन्होंने कहा कि यदि आज केन्द्र में बैठी हुई फासीवादी सरकार का विरोध नहीं किया गया तो आने वाले पीढ़ी हमें कभी माफ नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि आने वाला समय नई पीढ़ी का है जिसके लिये कांग्रेस पार्टी को मजबूत करना एवं फासीवादी ताकतों को हराना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा सम्मेलन बुलाकर जो प्रस्ताव पारित किये गये उन्हें बजट घोषणाओं में सरकार ने शामिल किया। इसी प्रकार मण्डल कमेटियों एवं ब्लॉक कांग्रेस कमेटियों द्वारा स्थानीय मांग को लेकर प्रस्ताव पारित कर सरकार को सौंपने पर सरकार द्वारा मांगों के अनुरूप निर्णय लिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि धर्म के नाम पर राजनीति करना आसान है, हिटलर ने भी लोकप्रियता पाई थी किन्तु हिटलर के देश का हश्र सबने देखा है। उन्होंने कहा कि सभी कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता अनुशासन के साथ पार्टी के कार्यों को करने का संकल्प लें। उन्होंने कहा कि सभी उपस्थित कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता भाजपा द्वारा सोशल मीडिया पर कांग्रेस के प्रति किये जा रहे दुष्प्रचार का जवाब दें। उन्होंने कहा कि स्व.  राजीव गॉंधी देश को 21वीं सदी में ले जाने के सपने के साथ कम्प्यूटर लेकर आये थे, किन्तु आज इसी तकनीक का दुरूपयोग भाजपा द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को स्व.  राजीव गॉंधी द्वारा देश को दी गई तकनीक का इस्तेमाल कर भाजपा के झूठ को जनता के सामने उजागर करने का कार्य करना होगा।


गहलोत ने कहा कि जिन लोगों ने प्रदेश में जनता के द्वारा चुनी हुई सरकार को गिराने का षडय़ंत्र किया उन भाजपा नेताओं को प्रदेश में किसी भी प्रकार की पंचायती नहीं करने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा के केन्द्रीय मंत्री सरकार चलाने एवं जनता के काम करने की बजाए केवल चुनाव जीतने पर ध्यान केन्द्रित रखते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने होर्स ट्रेडिंग को भारतीय राजनीति का मॉडल बना दिया है, ऐसी ताकतों से लड़ते हुये नौजवान नेताओं को अपनी नेतृत्व क्षमता की पहचान बनाने का मौका मिलता है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में ओल्ड पेंशन स्कीम, मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना जैसे बड़े काम हुये हैं तथा आगामी समय में आयोजित होने वाले मंहगाई राहत कैम्पों में अपना योगदान प्रदान कर जनता का दिल जीतने एवं नेता बनने का मौका कांग्रेस कार्यकर्ताओं के पास है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने इस राहुल गॉंधी के खिलाफ जमकर दुष्प्रचार किया एवं उनकी छवि बिगाडऩे का षडय़ंत्र किया, किन्तु  राहुल गॉंधी ने भारत जोड़ो यात्रा निकालकर भाजपा के असली चेहरे को जनता के सामने उजागर कर दिया है। उन्होंने कहा कि  राहुल गॉंधी के विरूद्ध भाजपा के नेता झूठे तथ्यों के आधार पर हमलावर रहते हैं। उन्होंने कहा कि  राहुल गॉंधी जिनकी दादी स्व. श्रीमती इंदिरा गॉंधी तथा पिता स्व.  राजीव गॉंधी ने देश के लिये जान दे दी को संसद में बोलने से रोकने के लिये भाजपा की केन्द्र सरकार ने लोकतंत्र विरोधी कदम उठाते हुये उनकी संसद की सदस्यता समाप्त कर दी।


 गहलोत ने कहा कि देश में राजस्थान सर्वप्रथम नम्बर पर आये इसके लिये कांग्रेस सरकार कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी नेता एवं कार्यकर्ता अनुशासन एवं एकजुटता के साथ कार्य करते हुये जनता के बीच जायें तथा प्रदेश में पुन: कांग्रेस की सरकार बने इसके लिये कोई कसर ना छोड़े। 


इस अवसर पर राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अधिकृत वैब साईट राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  गोविन्द सिंह डोटासरा, राजस्थान प्रभारी  सुखजिन्द्र सिंह रंधावा, मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने लॉन्च की। कार्यशाला में मंहगाई राहत कैम्प के तहत् किये जाने वाले कार्यों से अवगत करवाने हेतु एक वीडियो फिल्म प्रसारित की गई। कार्यशाला को कांग्रेस कार्यसमिति सदस्य  रघुवीर मीणा, एआईसीसी महासचिव  जितेन्द्र सिंह, पंजाब प्रभारी  हरीश चौधरी, एआईसीसी प्रवक्ता  मोहन प्रकाश एवं एआईसीसी सचिव  धीरज गुर्जर ने भी सम्बोधित किया।


Comments

Popular posts from this blog

नाहटा की चौंकाने वाली भविष्यवाणी

उप रजिस्ट्रार एवं निरीक्षक 5 लाख रूपये रिश्वत लेते धरे

18 जून को सुविख्यात ज्योतिषी दिलीप नाहटा पिंकसिटी में जयपुर वासियों को देंगे निशुल्क सेवा