राजकीय वाहन चालक करेंगे विरोध प्रदर्शन

राजकीय वाहन चालक 1 से 7 मई तक

 काली पट्टी बांध करेंगे विरोध प्रदर्शन


जयपुर । अखिल राजस्थान राज्य वाहन चालक एवं तकनीकी कर्मचारी संघ की मंगलवार 25 अप्रैल को प्रदेश कार्यालय जल संसाधन विभाग इंदिरा गांधी नहर मंडल जयपुर में मीटिंग आहूत हुई जिसमें प्रदेश एवं जिला कार्यकारिणी तथा उप शाखा अध्यक्ष उपस्थित रहे। मीटिंग में सभी ने एक सुर में वाहन चालक एवं तकनीकी कर्मचारीयो के राज्य सरकार  के स्तर पर लंबित मांगपत्र को लेकर चिंता जाहिर की तथा रोष प्रकट किया। एक तरफ जहा सरकार महंगाई राहत कैंपों का आयोजन कर रही है वहीं दूसरी तरफ आयोजन को सफल बनाने की मुख्य कड़ी वाहन चालक जो कि अधिकारियों के साथ दिन रात अनुशासनपूर्वक अपनी सेवाएं देते हैं की मूलभूत मांगो पर ही विचार नहीं किया जा रहा है। 


अतः मीटिंग में सर्व सम्मती से  वाहन चालक एवं तकनीकी कर्मचारी संवर्ग की मुख्य मांग पदोन्नति, हार्ड ड्यूटी अलाउंस एवं अन्य लंबित 7 सूत्री मांगपत्र को लेकर दिनाक 1 मई से 7 मई (एक सप्ताह) तक काली पट्टी बांधकर कार्य करते हुए विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया तथा समस्त जिला कलेक्टर एवं विभागीय मुखिया को   मुख्यमंत्री  के नाम लंबित मांगों का ज्ञापन दिया जाएगा। 

इसके उपरांत भी सरकार वाहन चालक संवर्ग की लंबित मांगों पर कोई सकारात्मक कार्यवाही नहीं करती है तो आगे बड़ा आंदोलन करने का निर्णय लिया जायेगा। इस मीटिंग में प्रदेश संरक्षक ज्ञानचंद जांगिड़, प्रदेश अध्यक्ष अजयवीर सिंह, प्रदेश मुख्य सलाहकार  समंदर सिंह , मोहनलाल बडगूजर, प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष सत्यपाल सिंह, जयपुर जिला अध्यक्ष लीलाधर गुर्जर, उपाध्यक्ष नरेंद्र सिंह, संभागीय अध्यक्ष जल संसाधन विभाग सलीम मोहम्मद, उपशाखा अध्यक्ष कृषि विभाग गजेंद्र सिंह,अशोक कुमार, उपशाखा अध्यक्ष पंचायत राज विभाग गिरधारी लाल लखारा, उपशाखा अध्यक्ष लोकायुक्त सचिवालय प्रकाश चंद मीणा, सुरेश चंद शर्मा, उपशाखा अध्यक्ष वित भवन सिद्धार्थ खांडा, खान विभाग से राजेंद्र वर्मा एवं रामकिशन जी,वन विभाग से सुरेंद्र सिंह,सायर सिंह तथा अन्य विभागों से जिया खान, भगवत सिंह, नरेंद्र सिंह आदि उपस्थित रहे।





Comments

Popular posts from this blog

ब्यावर के जिला बनने की भविष्यवाणी हुई सत्य साबित

मंत्री महेश जोशी ने जूस पिलाकर आमरण अनशन तुड़वाया 4 दिन में मांगे पूरी करने का दिया आश्वासन

कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस को बंपर सीटें