केयर्न के सकल भंडार व संसाधन 1.1 अरब बैरल तेल समतुल्य से अधिक

केयर्न के सकल भंडार व संसाधन 1.1 अरब बैरल तेल समतुल्य से अधिक


भारत की सबसे बड़ी निजी तेल और गैस अन्वेषण और उत्पादन कंपनी, और वेदांता समूह की एक इकाई, केयर्न ऑयल एंड गैस ने घोषणा की है कि इसका रिजर्व और संसाधन पोर्टफोलियो 1.1 अरब बैरल को पार कर गया है। कंपनी का अनुमानित कुल सकल 2पी रिजर्व एवं 2सी संसाधन 1,15.6 करोड़ बैरल समतुल्य है, जिसमें तेल का हिस्सा 85 प्रतिशत है। केयर्न की सभी परिसंपत्तियों में सकल हाइड्रोकार्बन का योग लगभग 6.7 अरब बैरल समतुल्य है, जिसमें से 1.18 अरब बैरल का अभी तक उत्पादन किया जा चुका है। 


केयर्न कुल उपलब्ध 2सी संसाधनों में से 84.6 करोड़ बैरल समतुल्य के बड़े हिस्से से उत्पादन शुरू करने के लिए 20 संभावित नए डेवलपमेंट प्रोजेक्ट्स चिन्हित कर रही है। 31 मार्च 2023 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष के दौरान, कुल रिजर्व एवं संसाधन वृद्धि उत्पादन से अधिक हो गई, जिसका मुख्य कारण आठ डिस्कवर्ड स्मॉल फील्ड (डीएसएफ) लाइसेंस की प्राप्ति था। इसके जुड़ने सेरिसोर्स रिप्लेसमेंट रेश्यो 108 प्रतिशत हुआ है।

इस बिजनेस माइलस्टोन पर टिप्पणी करते हुए केयर्न ऑयल एंड गैस के सीईओ निक वॉकर ने कहा, “केयर्न के पास 1.1 अरब बैरल समतुल्य सकल से अधिक का वर्ल्ड क्लास रिसोर्स बेस है, और हमने गत वर्ष में बिजनेस को सस्टेन करते हुए  उत्पादन की तुलना में ज़्यादा संसाधनों को जोड़ा है। हमारे पास उल्लेखनीय ऐसे रिसोर्स हैं जिन्हें डेवलप किया जाना शेष है और हम तेज गति से आधुनिकतम टेक्नोलॉजी के साथ 20 नए प्रोजेक्ट्स के पोर्टफोलियो को परिभाषित करने के लिए आगे बढ़ रहे हैं। हमारे पास भारत में मटेरियल एक्सप्लोरेशन पोजीशन भी है और हम अपने रिसोर्सेज को विकसित करने के उद्देश्य से एक रोमांचक एक्सप्लोरेशन ड्रिलिंग प्रोग्राम शुरू कर रहे हैं। केयर्न देश के कच्चे तेल के उत्पादन में 50 प्रतिशत का योगदान देने की दृष्टि से भारत के घरेलू तेल और गैस उत्पादन को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।

केयर्न के पास भारत में 62 लाइसेंस हैं, जिनमें 3 अरब बैरल समतुल्य से अधिक सकल गैर-जोखिम वाले संभावित संसाधन होने का अनुमान है। कंपनी अगले दो वर्षों में लगभग 50 करोड़ बैरल समतुल्य सकल गैर-जोखिम वाले संभावित संसाधनों को लक्षित करते हुए 20 अन्वेषण कुओं तक ड्रिल करने की योजना बना रही है। 

2022 में जारी आठ DSF राउंड III लाइसेंस से जुड़े आकस्मिक संसाधनों के अपवाद के साथ, कंपनी के रिज़र्व और आकस्मिक संसाधनों का ऑडिट डेग्लोयर एंड मैक नॉटन द्वारा किया गया है, जो एक थर्ड पार्टी स्वतंत्र रिज़र्व ऑडिटर है। रिज़र्व और आकस्मिक संसाधनों का अनुमान मार्च 2007 में अनुमोदित पेट्रोलियम संसाधन प्रबंधन प्रणाली (PRMS) और जून 2018 में पेट्रोलियम इंजीनियरों की सोसायटी, वर्ल्ड पेट्रोलियम काउंसिल, अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ पेट्रोलियम जियोलॉजिस्ट्स, सोसाइटी ऑफ पेट्रोलियम इवैल्यूएशन इंजीनियर्स, सोसाइटी ऑफ एक्सप्लोरेशन द्वारा संशोधित भूभौतिकीविद्, पेट्रोफिजिसिस्ट और वेल लॉग एनालिस्ट्स, और भूवैज्ञानिकों और इंजीनियरों का यूरोपीय संघ के अनुसार किया गया है।

Comments

Popular posts from this blog

मंत्री महेश जोशी ने जूस पिलाकर आमरण अनशन तुड़वाया 4 दिन में मांगे पूरी करने का दिया आश्वासन

कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस को बंपर सीटें

उप रजिस्ट्रार एवं निरीक्षक 5 लाख रूपये रिश्वत लेते धरे