काव्य साधिका साझा काव्य संग्रह आयोजन संम्पन्न

       काव्य साधिका साझा काव्य संग्रह आयोजन संम्पन्न 


जयपुर (जे पी  शर्मा)।अंतरराष्ट्रीय काव्य साधिका मंच की ओर से यश रीजेंसी खातीपुरा में काव्य साधिका साझा काव्य संग्रह  का विमोचन एवं लहरिया उत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम  के मुख्य अतिथि दूरदर्शन जयपुर के पूर्व निदेशक और साहित्यकार नंद भारद्वाज थे। पूर्व शिक्षा मंत्री एवं प्रसिद्ध साहित्यकार रवींद्र शुक्ल ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। सरस्वती वंदना से कार्यक्रम का प्रारंभ हुआ। पूर्व विधायक ज्ञान देव आहूजा एवं साहित्यकार अरुणेश मिश्र कार्यक्रम में विशिष्ट आतिथ्य थे। मुख्य अतिथि नंद भारद्वाज ने कहा कि काव्य सृजन के सभी संस्कार हर एक में विधमान होते हैं। ज्ञान की सभी विधाएँ काव्य से ही संरक्षित रहती हैं। अध्यक्ष रविंद्र शुक्ल  ने काव्य साधिका मंच की सभी कवयित्रियों सराहना करते हुए उन्हें सृजन करते रहने का परामर्श दिया। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि अरुणेश मिश्रा और ज्ञान देव आहूजा ने भी विचार व्यक्त किए।पुस्तक की समीक्षा मंच संरक्षिका डॉक्टर शारदा कृष्ण ने की। काव्य साधिका मंच की संस्थापक अध्यक्ष डॉक्टर रानी तंवर ने  कार्यक्रम में मंच की स्थापना से लेकर पुस्तक प्रकाशन तक की यात्रा पर प्रकाश डाला।उन्होंने कहा कि नारी जब कठोर होती है तो वज्र बन जाती है और जब कोमल होती है तो कविता बन जाती है। 


इस अवसर पर काव्य साधिका मंच की ओर से काव्य गुरु सम्मान विजयलक्ष्मी देथा उदयपुर ,राष्ट्रीय स्तर का काव्य साधिका सम्मान ललिता जोशी कोलकाता को तथा राज्य स्तरीय सम्मान पवनेश्वरी वर्मा जयपुर को दिया गया l इस अवसर पर  48 कवियत्रियों के काव्य साझा संग्रह का विमोचन भी किया गया। कार्यक्रम में पूरे देश के विभिन्न हिस्सों से आयी कवयित्रियों ने अपने काव्य पाठ से सबका मन जीत लिया। पुस्तक विमोचन के बाद सभी कवियत्रियों ने लहरिया उत्सव में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया और माहौल को अपने सांस्कृतिक कार्यक्रमों से रंगीन बना दिया। कार्यक्रम का संचालन प्रसिद्ध शायरा शोभा चंदर ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

नाहटा की चौंकाने वाली भविष्यवाणी

मंत्री महेश जोशी ने जूस पिलाकर आमरण अनशन तुड़वाया 4 दिन में मांगे पूरी करने का दिया आश्वासन

उप रजिस्ट्रार एवं निरीक्षक 5 लाख रूपये रिश्वत लेते धरे