एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा ने की राजस्थान , मध्य प्रदेश , छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की भविष्यवाणी

 एस्ट्रोलॉजर दिलीप नाहटा ने की राजस्थान,मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की भविष्यवाणी 



मोदी एवं योगी का मैजिक राजस्थान एवं मध्यप्रदेश में चलेगा लेकिन छत्तीसगढ़ में नहीं 


ब्यावर । भारत के लगभग सभी मीडिया एवं एग्जिट पोल मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के दे रहे हैं संकेत , एस्ट्रोलॉजर नाहटा ने मध्यप्रदेश के लिए लिखी ठीक इसके विपरीत भविष्यवाणी , राजस्थान चुनाव में अशोक गहलोत सरकार के चुनाव में खड़े 21 दिग्गज मंत्रियों में से कम से कम 12 दिग्गज मंत्री इस बार चुनाव हार जाएंगे , राजस्थान में ब्यावर जिले के एस्ट्रोलॉजर एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ दिलीप नाहटा ने राजस्थान चुनाव के बारे में भविष्यवाणी की है कि इस बार राजस्थान में भाजपा की सरकार बनेगी लेकिन जोधपुर के सरदारपुरा से लड़ रहे खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पहली बार सबसे कम अंतरों से जीत मिलेगी जो पहले कभी नहीं हुआ होगा एवं राजस्थान में भाजपा को कम से कम 104 सीटों के लगभग सीटें मिलने के योग बनते है या फिर 127 से 137 के लगभग या इससे भी अधिक बंपर सीटें इस बार भाजपा को मिलती हुई नजर आ सकती है , इसके अलावा राजस्थान में वसुंधरा राजे के मुख्यमंत्री बनने के फिर से प्रबल राजयोग बनते हुए दिखाई दे रहे हैं , ब्यावर के ज्योतिषी दिलीप नाहटा के अनुसार अगर वसुंधरा राजे को मुख्यमंत्री नही बनाया गया तो बीजेपी को मुंह की खानी पड़ेगी और वसुंधरा राजे राजस्थान की राजनीति में भूचाल ला देगी यानी वसुंधरा राजे अपने जीते हुए समर्थक विधायकों को लेकर सरकार तोड़ने का ऐलान भी कर सकती है , इसी डर के कारण मोदी एवं शाह को चुप्पी साधनी पड़ेगी एवं फिर से वसुंधरा राजे के वापस मुख्यमंत्री बनने के प्रबल राजयोग बनते हुए नजर आ रहे है अगर किसी कारण से वसुंधरा राजे स्वयं ही मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहेंगी तो दूसरे नंबर पर राजस्थान में मुख्यमंत्री पद के प्रबल योग पहले नंबर पर बालक दास एवं दूसरे नंबर पर दीया कुमारी एवं तीसरे नंबर पर राजवर्धन सिंह राठौड़ एवं चौथे नंबर पर अश्विनी वैष्णव के योग बन सकते हैं या फिर इन्हें उप मुख्यमंत्री भी बनाया जा सकता हैं चाहे कुछ भी हो अवश्य ही राजस्थान की राजनीति में इन लोंगों को राज्य कैबिनेट मंत्री का बड़ा पद जरूर मिलकर ही रहेगा , गौरतलब है कि इस बार राजस्थान में अशोक गहलोत के करीब 21 मंत्रियों में से कम से कम 12 राज्य कैबिनेट मंत्री चुनाव हार जाएंगे , जिसमें मुख्य रूप से चर्चित चेहरों में रघु शर्मा , प्रताप सिंह खाचरियावास , शांति धारीवाल , बीडी कल्ला जैसे दिग्गजों को भी इस चुनाव में हार का सामना करना पड़ सकता है , केवल कुछ मंत्री ही अपनी साख बचाने में कामयाब होंगे , जिसमें प्रमोद जैन भाया भी शामिल है , इसके अलावा राजस्थान की भविष्यवाणी करने के बाद एस्ट्रोलॉजर एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ दिलीप नाहटा ने मध्य प्रदेश चुनाव के बारे में भी भविष्यवाणी की है कि इस बार मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी एवं मध्यप्रदेश में मामा को यानी शिवराज सिंह चौहान के वापस मुख्यमंत्री बनने के प्रबल राजयोग बनते हुए दिखाई दे रहे हैं , अगर मोदी चाहेंगे तो इनकी जगह किसी और को भी मुख्यमंत्री बना सकते हैं यानी ज्योतिराधे सिंधिया को भी मुख्यमंत्री या उपमुख्यमंत्री पद दिया जा सकता है परंतु मध्य प्रदेश में इस बार भाजपा को 117 सीटों से लेकर से 124 सीटों तक मिलने के योग बनते हैं या फिर भाजपा को 136 सीटों के आसपास मिलने के योग बनते हैं या महिलाओं के बंपर मतदान यदि भाजपा की ओर मुड़ गया तो मध्य प्रदेश में इस बार भाजपा को अप्रत्यासित बम्पर सीटें 150 के लगभग या इससे भी अधिक सीटें मिल सकती है जो पहले कभी भी मध्य प्रदेश के इतिहास में नहीं हुआ होगा एवं मध्य प्रदेश में कांग्रेस को केवल 60 से 80 सीटों के मध्य में मिलने के योग बनते हैं , इसके अलावा राजस्थान एवं मध्य प्रदेश की भविष्यवाणी करने के बाद एस्ट्रोलॉजर एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ दिलीप नाहटा ने छत्तीसगढ़ चुनाव के बारे में भी भविष्यवाणी की है कि इस बार छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनेगी एवं छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल के लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने के प्रबल राजयोग बनते हुए दिखाई दे रहे हैं , जिसमें कांग्रेस को इस बार 45 से लेकर 55 सीटों के मध्य तक सीटें मिलने के योग बनते हैं एवं भाजपा को भी 32 से लेकर 42 सीटों के मध्य में सीटें मिल सकती है , गौरतलब है की ब्यावर जिले के एस्ट्रोलॉजर एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ दिलीप नाहटा द्वारा पिछले 10 वर्षों के दौरान दो बड़े आविष्कार भी किए हैं जो विश्व के कोई भी वैज्ञानिक अभी तक नहीं कर पाएं है , पहला आविष्कार - नाहटा द्वारा 2013 में विश्व की पहली हस्तरेखा मशीन बनाई गई , जिसका नाम रखा गया है गुरु हस्ती हस्तरेखा लैब , पार्ट नम्बर - ( 01 ) एवं दूसरा आविष्कार - नाहटा द्वारा 2023 में विश्व की पहली भविष्यवाणी मशीन बनाई गई , जिसका नाम रखा गया है गुरु हस्ती भविष्यवाणी लैब , पार्ट नम्बर - ( 01 ) , गौरतलब है की नाहटा द्वारा बनाई गई ये हस्तरेखा मशीन एवं भविष्यवाणी मशीन देशभर के कई हजार लोगों का दिल जीत चुकी है और हजारों लोग इस मशीन की सटीक भविष्यवाणीयों के कारण नाहटा के ईस्ट गुरु 1008 श्री हस्ती मल जी महाराज साहब के दीवाने भी बन गए हैं , नाहटा ने ज्योतिष के क्षेत्र में न केवल ब्यावर जिलें का सम्मान बढ़ाया है अपितु पूरे राजस्थान का गौरव देशभर में बढ़ाया है , नाहटा ने जुलाई 2012 में आईसीआईसीआई बैंक में असिस्टेंट मैनेजर की नौकरी को छोड़कर यानी आईसीआईसीआई बैंक से वीआरएस लेकर ज्योतिष के क्षेत्र को चुना था , इसके बाद 2013 में ब्यावर जिले के एस्ट्रोलॉजर एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ दिलीप नाहटा ने ज्योतिष के क्षेत्र में हस्तरेखा विद्या पर विश्व की पहली पोर्टेबल साइंटिफिक हस्तरेखा लैब बनाकर भारत में ज्योतिष के क्षेत्र में एक नया कीर्तिमान स्थापित किया था , जो इंसान की हस्तरेखाओं के आधार पर उनके भूत एवं वर्तमान में हो चुकी घटनाओं का और भविष्य में घटने वाली घटनाओं का वैज्ञानिक आंकलन के आधार पर एक निश्चित समय निकाल करके इंसान के भविष्य के बारे में उनके भविष्यफल का काफी हद तक सटीक अनुमान देती है , इसके अलावा ब्यावर जिले के ज्योतिषी दिलीप नाहटा के द्वारा पिछले 17 वर्षों के भीतर 400 से अधिक राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर की भविष्यवाणियां भी सत्य साबित हो चुकी है जैसे 2007 में 20-20 वर्ल्ड कप क्रिकेट में भारत का विजेता बनना , 2008 में भारत का चंद्रयान मिशन का सफल होना , 2010 में 20-20 वर्ल्ड कप क्रिकेट में यूरोपीयन टीम का विजेता बनना , 2011 में वर्ल्ड कप क्रिकेट में भारतीय टीम का विजेता बनना , 2011 में सचिन की बड़ी इच्छा पूरी होना यानी 2011 में वर्ल्ड कप क्रिकेट का न केवल वें हिस्सा बने अपितु वर्ल्ड कप दिलवाने में अहम भूमिका भी अदा कर पाएं यानी अपने संपूर्ण कैरियर के दौरान सचिन की वर्ल्ड कप जीतने की पहली सबसे बड़ी इच्छा पूरी होना , 2012 में एशिया कप क्रिकेट के दौरान सचिन का महाशतक लगना , अक्टूबर 2012 में भारत में प्राकृतिक प्रकोप का होना यानी 31 अक्टूबर 2012 को भारत के आंध्र प्रदेश एवं तमिलनाडु में  नीलम जैसे चक्रवाती तूफान का आना , 2012 में अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बराक ओबामा का दूसरी बार अमेरिकन राष्ट्रपति बनना , 2012 में दुनिया का नहीं होगा अन्त यानी माया कैलेंडर ने 2012 में दुनिया के अन्त होने की चेतावनी दी थी , 2012 में सचिन का एक दिवसीय क्रिकेट मैचों से संन्यास लेना , 2013 में कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार बनना , 2013 में पाकिस्तान में पी.एम.एल. की सरकार बनना , 2013 में फीफा कनफेडरेशंस कप फुटबॉल में ब्राजील का विजेता बनना , 2013 में एशिया कप हॉकी में दक्षिण कोरिया का विजेता बनना , ब्यावर विधानसभा सीट्स से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार का  विजयी होना यानी ब्यावर से शंकर सिंह रावत का फिर से विधायक बनना , 2013 में मध्य प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनना , 2013 में राजस्थान में हुए विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनना , 2013 में छत्तीसगढ में हुए विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनना , 2014 में दुबई ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर  का विजेता बनना , 2014 में एशिया कप क्रिकेट में श्रीलंका का विजेता बनना , 2014 में राजसमन्द लोकसभा सीट्स से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार का विजयी होना , 2014 में राजस्थान में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा को कम से कम 20 सीटों से लेकर अधिकतम 25 सीटों तक मिलना , 2014 में वाराणसी लोकसभा सीट्स से भाजपा के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी का विजयी बनना , 2014 में लोकसभा चुनाव में कपिल सिब्बल का हार जाना , 2014 में लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को अधिकतम 05 से ज्यादा सीटें नहीं मिलना , 2014 में लोकसभा चुनाव के तुरंत बाद नरेंद्र मोदी का प्रधानमंत्री बनना , 2014 में अमेठी लोकसभा सीट से राहुल गांधी का विजयी होना , 2014 में रायबरेली लोकसभा सीट्स से सोनिया गांधी का विजयी होना , 2014 में लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का सबसे ज्यादा सीटें लाकर पूर्ण बहुमत की सरकार बनाना , 2014 में लोकसभा सीट्स से राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट का लोकसभा चुनाव हार जाना , 2014 में नासा द्वारा किया गया मंगल मिशन मावेन का सफल होना , 2014 में भारत में सितंबर एवं अक्टूबर में कोई साइक्लोन तूफान का आना यानी आंध्र प्रदेश एवं उड़ीसा में हुद हुद जैसे साइक्लोन तूफान का आना , 2015 में फ्रांस में विमान दुर्घटना का होना , 2015 में क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारत का बाहर होना , 2016 में इंडोनेशिया में विमान दुर्घटना का होना , 2016 में ताइवान इक्वाडोर में भूकंप का  आना , 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व में ऐसा कोई मंत्र देंगे , जिससे सारा विश्व आश्चर्यचकित हो जाएगा यानी मोदी ने भारत में नोट बंदी करके दुनियाभर को आश्चर्यचकित कर दिया था , 2018 में राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनना , 2018 में  मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनना , 2018 में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनना , 2018 में राजस्थान में अशोक गहलोत का मुख्यमंत्री बनना , 2018 में कांग्रेस को राजस्थान में 90 से लेकर 120 के मध्य सीटें आना , 2019 में लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी का दुबारा प्रधानमंत्री बनना , 2019 में राजसमंद लोकसभा सीट से भाजपा की प्रत्याशी दीया कुमारी का विजयी बनना , 2019 में बीसलपुर बांध का पूरी तरह भर जाना , 2019 में महिलाओं का तीन तलाक कानून का बनना , 2019 में धारा 370 का हटना , 2019 में नाहटा ने भविष्यवाणी की थी कि अगले 10 वर्षों के भीतर राम मंदिर बन जाएगा अन्यथा 100 वर्षों की भीतर  नहीं बनेगा यानी यह भविष्यवाणी लिखने के बाद राम मंदिर बनने का सुप्रीम कोर्ट द्वारा आदेश होना , 2020 में वायरस या बुखार से महामारी फैलने से जन हानि के योग बनना , ( ये भविष्यवाणी भी 2020 में आए कोविड-19 पर सटीक भविष्यवाणी हुई थी जो सितंबर एवं अक्टूबर 2019 के महीने में देश के कई न्यूज़पेपरों में प्रकाशित हुई थी ) , 2020 में दिल्ली में अरविंद केजरीवाल का दोबारा मुख्यमंत्री बनना , 2020 में मुंबई में चक्रवाती तूफान आना , 2020 में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का हार जाना , 2020 में बिहार चुनाव में भाजपा गठबंधन की सरकार बनना , 2020 में चेन्नई में चक्रवाती तूफान आना , 02 मई 2021 को बंगाल में तीसरी बार ममता बनर्जी का मुख्यमंत्री बनना एवं बंगाल में टीएमसी को 225 सीटों के लगभग मिलना एवं बंगाल में भाजपा को 76 सीटों के लगभग मिलना एवं 02 मई 2021 को असम विधानसभा चुनाव में एनडीए भाजपा गठबंधन की  सरकार बनना एवं 02 मई 2021 को केरल विधानसभा चुनाव में एलडीएफ गठबंधन की सरकार बनना , 02 मई 2021 को तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में यूपीए डीएमके गठबंधन की सरकार बनना , 02 मई 2021 को  पांडिचेरी विधानसभा चुनाव में एनडीए भाजपा गठबंधन की  सरकार बनना एवं 2021 में गुजरात में चक्रवाती तूफान आने एवं 2022 में लता मंगेशकर की मृत्यु होने एवं 10 मार्च 2022 को उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने एवं उत्तर प्रदेश में  भाजपा को लगभग 273 सीटें मिलने एवं उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के फिर से मुख्यमंत्री बनने की भविष्यवाणी सत्य होने एवं 10 मार्च 2022 को उत्तराखंड में भाजपा की सरकार बनने , 10 मार्च 2022 को मणिपुर में भाजपा की सरकार बनने , 10 मार्च 2022 को गोवा में भाजपा की सरकार बनने एवं 10 मार्च 2022 को पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने एवं 2022 में रूस और यूक्रेन के मध्य युद्ध होने एवं 2022 में जानवरों पर लम्पि  वायरस फैलने की भविष्यवाणी सत्य साबित होने एवं 2022 में बीसलपुर बांध का पूरी तरह से भर जाने की भविष्यवाणी सत्य साबित होने एवं 2022 में ताइवान में भूकंप आने एवं मेक्सिको में भूकंप आने एवं जापान में चक्रवाती तूफान आने एवं दिसंबर 2022 में गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा को 150 सीटों से अधिक सीटें मिलने एवं दिसंबर 2022 में गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 16 सीटों के आसपास सीटें मिलने एवं दिसंबर 2022 में गुजरात विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 05 सीटों के आसपास सीटें मिलने , मार्च 2023 में त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में भाजपा को 20 सीटों के आसपास सीटें मिलने एवं मार्च 2023 में नागालैंड विधानसभा चुनाव में भाजपा को 34 सीटों के आसपास सीटें मिलने , मार्च 2023 में मेघालय विधानसभा चुनाव में एनसीपी को 24 सीटों के आसपास सीटें मिलने , मार्च 2023 में ब्यावर के जिला बनने की भविष्यवाणी सत्य साबित होने , अप्रैल 2023 में एक बार फिर से कोरोना जैसी महामारी की लहर आने एवं 13 मई 2023 को कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार बनाने एवं कर्नाटक में कांग्रेस को अधिकतम 126 से 146 सीटों के मध्य में बंपर सीटें मिलने यानी मध्य प्रदेश में 136 सीटों के आसपास मिलने जैसी भविष्यवाणी सत्य साबित होने एवं  पिछले 17 वर्षों के दौरान अब तक 400 से अधिक भविष्यवाणियां सत्य साबित हो चुकी है , इसके अलावा नाहटा को पिछले 14 वर्षों के भीतर कुछ बड़े प्रमुख अवॉर्ड भी मिल चुके हैं जैसे 2015 में चंडीगढ़ के राज्यपाल श्री कप्तान सिंह जी सोलंकी से सम्मान मिलना , 2017 में गाजियाबाद में विदेश राज्य मंत्री जनरल वी के सिंह जी से सम्मान मिलना , 26 जनवरी 2018 को गणतंत्र दिवस पर अजमेर जिला कलेक्टर श्री गौरव गोयल जी से सम्मान मिलना , 2019 में जयपुर में राजस्थान राज्य परिवहन मंत्री श्री प्रताप सिंह जी खाचरियावास से सम्मान मिलना , फरवरी 2020 में कुरुक्षेत्र में नास्त्रेदमस अवार्ड मिलना एवं दिसंबर 2020 में मुंबई फिल्म इंडस्ट्रीज से लीजेंड दादा साहब फाल्के अवार्ड मिलना इत्यादि , अंतिम कड़ी में नाहटा ने पिछले 17 वर्षों के भीतर 400 से अधिक सत्य साबित हो चुकी इन सभी भविष्यवाणियों को एवं अब तक मिलें सभी  अवार्डों को ईस्ट गुरु जैन आचार्य 1008 श्री हस्ती मल जी महाराज साहब के चरण कमलों में एवं निमाज गांव स्थित पावन धाम पर समर्पित की है ।

Comments

Popular posts from this blog

मंत्री महेश जोशी ने जूस पिलाकर आमरण अनशन तुड़वाया 4 दिन में मांगे पूरी करने का दिया आश्वासन

कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस को बंपर सीटें

उप रजिस्ट्रार एवं निरीक्षक 5 लाख रूपये रिश्वत लेते धरे