सतर्क, सावधान ओर सुरक्षित रहने का समय--पंडित दयानंद शास्त्री



आगामी शनिवार की देर रात्रि (1 फरवरी) को देश एवम देश की राजधानी में कुछ गलत/बुरा/असंवेदनशील/आगजनी/विस्फोट
होने की सम्भवना बनती हैं।
✍🏻✍🏻🌹🌹👉🏻👉🏻
देश विदेश की जनता के लिए अगले 48 घंटे के ग्रह योगायोग अनुसार कुछ ग्रह संकेत दर्शा रहे हैं ।


प्रश्न कुंडली के अनुसार अभी 30 जनवरी 2020 समय 8:51 लग्न सिंह लगने से सूर्य षष्ठ भाव में मकर राशि में शनि प्लस बुध के साथ स्थित है।।


 शनि की तीसरी दृष्टि अष्टम में स्थित चंद्रमा पर है।।
इस समय चंद्रमा रेवती नक्षत्र के प्रथम चरण में गोचरस्त है ।।


मीन के चंद्रमा से वृश्चिक के मंगल के बीच ग्रह गोचर स्थिति देव द्वादश योग में है, वही राहु शनि का और राहु मंगल का षडाष्टक योग भी बना हुआ है जो हिंसा/ विस्फोट /भूकंप/ आगजनी अथवा रेल दुर्घटना प्राकृतिक आपदा से वातावरण को संकट का संकेत कराती है।
✍🏻✍🏻🌹🌹👉🏻👉🏻🌷🌷🙏🏻🙏🏻
निवेदन- शासन/प्रशासन और सरकार से---
आगामी समय के ग्रह गोचर के फलस्वरूप बन रही स्थित को देखते हुए शासन/प्रशासन और सरकार को विशेष सतर्क, सावधान  रहने की आवश्यकता रहेगी।।
।।शुभमस्तु।।
।।भगवान महाकाल सभी की रक्षा करें।।
कितना सच या झूँठ??
✍🏻✍🏻🌷🌷👉🏻👉🏻
वैदिक ज्योतिष में पत्नी को दुःख देने से शुक्र ख़राब होता है, मगर पति को दुखी करने से कौन सा ग्रह ख़राब होता है, क्या कोई जानता है?


देवगुरु वृहस्पति ग्रह,स्त्रियों की कुंडली में पति का कारक ग्रह हैं।अगर उनके द्वारा पति को दुःख दिया जाए तो गुरु ग्रह कमजोर होता है। इसके फलस्वरूप ऐसी स्त्री जातक को धन की कमी रहती है,उसकी इच्छायें पूरी नही होती।
ऐसी स्त्री जातक को गुरु ग्रह के शुभ प्रभाव नही मिलते।


Comments

Popular posts from this blog

डीएसपी हीरालाल सैनी का वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री सोमवार को जारी करेंगे कोरोना की नई गाइड लाइन

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को