मासिक बंधी मामलाः परिवहन मंत्री खाचरियावास के समर्थन में आए पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह, ट्वीट कर लिखा...मजबूत रहो भाई


कार्यालय संवाददाता


जयपुर। परिवहन विभाग में दलालों के मार्फत अफसरों के लिए मासिक बंधी वसूली प्रकरण का सनसनीखेज खुलासा होने के बाद प्रदेश की राजनीति भी गरमा गई है। मामले में ना सिर्फ विपक्ष के नेताओं बल्कि कांग्रेस के नेताओं ने परिवहन विभाग में पनप रहे भ्रष्टाचार और मासिक बंधी वसूली पर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास की भूमिका को लेकर सवाल उठाना शुरु कर दिया था। सोशल मीडिया पर भी खाचरियावास के खिलाफ इस्तीफा देने की मांग उठानी शुरु की गई। अब इन सबके बीच कांग्रेस सरकार में पर्यटन मंत्री और दिग्गज जाट नेता विश्वेंद्र सिंह भी परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के समर्थन में आ गए है। विश्वेंद्र सिंह ने एक ट्वीट कर लिखा कि-एक बहुत अच्छे सहयोगी और मित्र के बारे में इतनी गंदगी करना! हम सब क्या करने आए हैं ?! मजबूत रहो भाई। IME आपको बता दें कि एसीबी की कार्रवाई के बाद अंदरखाने राजनीतिक गुटबाजी की बात भी कही जा रही है।


आप राजस्थान के बब्बर शेर हैआपका कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकताः पर्यटन मंत्री के ट्वटी के बाद युवा कांग्रेस के नेता अभिमन्यु पूनियां सहित कई अन्य युवाओं ने ट्वीट के जरिए प्रताप सिंह खाचरियावास के समर्थन में सोशल मीडिया कैंपेन शुरु कर दिया है। जिसमें लिखा गया है कि मैं सच के साथ हूं, मैं प्रताप सिंह खाचरियावास के साथ हूं। इसके अलावा एक अन्य मैसेज में लिखा गया है कि प्तहमारा प्रताप आप पर हमें पूरा भरोसा है, आप एक ईमानदार व्यक्ति है, आप राजस्थान के बब्बर शेर है। आपका कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता, क्योंकि आप पर प्तसुदर्शन चक्र वाले का आर्शीवाद है।


परिवहन अफसरो और 9 दलालों चुके है गिरफ्तारः आपको बता दें कि एसीबी को राजस्थान में ट्रांसपोर्ट कारोबारियों डरा धमकाकर दलालों के जरिए परिवहन विभाग के अफसरों के लिए मासिक बंधी के रुप में मोटी रकम वसूलने शिकायतें मिली थी। ऐसे में डीजी एसीबी आलोक त्रिपाठी व आईजी दिनेश एमएन निर्देशन में एसीबी टीम ने रविवार परिवहन इंस्पेक्टर उदयवीर सिंह व दलाल मनीष को रंगे हाथ रिश्वत लेते गिरफ्तार किया । इसके बाद रातों रात एसीबी की 17 टीमों ने छापामारी कर 7 अन्य परिवहन अफसरों व 8 अन्य दलालों को पकड़ा थाउनके यहां से करीब डेढ़ करोड़ रुपए बरामद किए थे।


विधानसभा में उठाया गया मुद्दा, विपक्ष ने की खाचरियावास को वास की इस्तीफा देने की मांग: एसीबी की कार्रवाई के बाद राजनीति भी गरमा गई। विपक्ष के भाजपा नेताओं ने पकड़ गए दलाल जसवंत सिंह यादव के साथ प्रताप सिंह खाचरियावास नजदीकियों और परिवहन विभाग में भ्रष्टाचार का मुद्दा विधानसभा में उठाया था। विधायक कालीचरण सर्राफ ने खाचरियावास के इस्तीफे तक की मांग कर ली। वहीं कांग्रेस के विधायक राजेंद्र गुढ़ा सहित कई अन्य विधायकों ने भी अपनी ही पार्टी के केबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के महकमे को लेकर गंभीर आरोप लगाए। वहीं, रालोप के संयोजक व सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी खाचरियावास व उनके विभाग पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे।


Comments

Popular posts from this blog

जानिए छिपकली से जुड़े शगुन-अपशगुन को

शिक्षा विभाग ने स्कूल सफाई कर्मचारियों की उपेक्षा की-शासन नया परिपत्र जारी करे - कर्मचारी संघ

जानिए वर्ष 2020 में बनने वाले गुरु पुष्य योग और रवि पुष्य योग की शुभ दिन और शुभ मुहूर्त को